आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना क्या है? आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना कब शुरू हुई?

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना क्या है (Aatm Nirbhar Bharat Rojgar Yojana) :- भारत सरकार ने अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने और लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से कई आत्मनिर्भर योजनाओं की घोषणा की है। इस संदर्भ में 12 नवंबर, 2020 को केंद्र सरकार में आत्मनिर्भर भारत पैकेज 3.0 के अंतर्गत औपचारिक क्षेत्र (Formal Sector) में रोजगार को बढ़ावा देने तथा नए रोजगार अवसरों के सृजन को प्रोत्साहन करने के उद्देश्य से आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना’ (ABRY) की घोषणा की थी। इसे 9 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अपनी स्वीकृति प्रदान की। इस योजना के क्रियान्वयन हेतु बजट 2021-22 में 3130 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना क्या है (Aatm Nirbhar Bharat Rojgar Yojana)

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना क्या है
Aatm Nirbhar Bharat Rojgar Yojana

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को कोविड-19 संक्रमण के दौरान हुई रोजगार के नुकसान की भरपाई करने के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से लगभग 58.5 लाख कर्मचारियों को लाभ पहुंचेगा। यह सरकार का नौकरी सृजन की दिशा में एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम है। इससे अर्थव्यवस्था में एक नया बदलाव आएगा तथा हम विकसित अर्थव्यवस्था की ओर पुनः प्रवेश करेंगे। यह योजना निश्चित रूप से रोजगार प्रदान करने में एक सकारात्मक भूमिका निभाएगी।

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना
योजना शुरू कीकेंद्र सरकार
योजना शुरू करने की तिथि1 अक्टूबर, 2020
योजना का उद्देश्यइस योजना से रोजगार के लिए नए अवसरों को पैदा करना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.epfindia.gov.in

यह भी पढ़े – डेयरी प्रसंस्करण और अवसंरचना विकास निधि योजना के लाभ और उद्देश्य?

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का उद्देश्य

यह योजना नए कर्मचारियों को रोजगार देने एवं कोविड-19 मारी के दौरान नौकरी गंवाने वाले निम्न आय वर्ग के व्यक्तियों को पुनः नियोजित करने वाले नियोक्ताओं (EPFO में पंजीकृत) को प्रोत्साहित करने का प्रस्ताव करती है।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की कार्य पद्धति

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अवधि को वर्ष 2020-2023 के लिए 22810 करोड़ रुपये के व्यय को अनुमति प्रदान की है।

  • यह योजना 1 अक्टूबर, 2020 से प्रारंभ मानी जाएगी।
  • इस योजना के तहत अर्ह नियोक्ताओं एवं नए कर्मचारियों का पंजीकरण 30 जून, 2021 तक किया जाना था।
  • नए कर्मचारी के पंजीकरण की तिथि से 24 महीनों की अवधि तक इस योजना के लाभ उपलब्ध होंगे, जो किसी भी स्थिति में 30 जून, 2023 के बाद नहीं होगा।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के मुख्य तथ्य

  • 15000 रु से कम मासिक आय वाला ऐसा नया कर्मचारी, जो 1 अक्टूबर, 2020 से पूर्व EPFO के साथ पंजीकृत किसी संगठन में कार्यरत नहीं था, वह इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने हेतु पात्र होगा।
  • 1 मार्च, 2020 से 30 सितंबर, 2020 तक नौकरी गंवाने वाले कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) के ऐसे सदस्य, जिन्हें अक्टूबर, 2020 के बाद रोजगार प्राप्त हुआ और उनकी मासिक आय 15000 रु. से कम है, वे भी इस योजना के तहत पात्र होंगे।
  • भारत सरकार 1 अक्टूबर 2020 को या उसके बाद और 30 जून, 2021 तक शामिल सभी नए कर्मचारियों को दो वर्ष की अवधि के लिए सब्सिडी प्रदान करेगी।
  • जिन रोजगार प्रदाता संगठनों में अधिकतम 1000 कर्मचारी हैं, वहां केंद्र सरकार नए कर्मचारियों हेतु 2 वर्ष की अवधि के लिए 12 प्रतिशत कर्मचारी योगदान और 12 प्रतिशत नियोक्ता योगदान (दोनों) अर्थात वेतन भत्तों का 24 प्रतिशत ईपीएफ में योगदान देगी।
  • जिन रोजगार प्रदाता संगठनों में 1000 से अधिक कर्मचारी हैं, वहां केंद्र सरकार नए कर्मचारियों के संदर्भ में 2 वर्ष की अवधि के लिए ईपीएफ में केवल 12 प्रतिशत कर्मचारी योगदान देगी।
  • सदस्यों के आधार संख्या से जुड़े खाते में ईपीएफओ इलेक्ट्रॉनिक तरीके से इस योगदान का भुगतान करेगा।
  • इस योजना के लिए ईपीएफओ एक सॉफ्टवेयर को विकसित करेगा और एक पारदर्शी एवं जवाबदेह प्रक्रिया भी अपनाई जाएगी।
  • ईपीएफओ यह सुनिश्चित करने के लिए एक उपयुक्त तरीका अपनाएगा कि ABRY और ईपीएफओ द्वारा लागू की गई किसी अन्य योजना के लाभ आपस में परस्पर व्याप्त (Overlapping) नहीं हुए हैं।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

इस योजना के अंतर्गत जो भी कर्मचारी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं और ईपीएफओ में अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं रजिस्ट्रेशन कराने की प्रक्रिया नीचे दी गई है-

यही आप एंप्लॉयर्स है तो यह प्रक्रिया आपके लिए है

  • सबसे पहले आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट खोलने पर आपको होम पेज पर सर्विसेस सेक्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको फॉर एम्पलाइज के सेक्शन को चुनना है।
  • इसके बाद ऑनलाइन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर एस्टेब्लिशमेंट की विकल्प को चुनना है।
  • यदि आप इस पर नए हैं तो आपको रजिस्टर करना होगा यदि आपके पास पहले से ही इस पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो आपको अपना यूजर आईडी और पासवर्ड कैप्चा कोड डालने के बाद लॉगिन करना होगा।
  • आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा आपसे पूछे गए सारी जानकारी को सही से भरना है।
  • इस तरह से आपकी ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

यही आप Employee है तो यह प्रक्रिया आपके लिए है

  • आपको इसके आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट के होम पेज पर सर्विसेस सेक्शन पर क्लिक करना है।
  • सर्विसेस सेक्शन में For Employee के विकल्प को चुनना है।
  • अब आपको रजिस्टर के विकल्प को चुनना है।
  • रजिस्टर फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस रजिस्टर फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारियों को सही से दर्ज करना है।
  • अब आपको सबमिट बटन पर क्लिक करके फॉर्म को सबमिट करना है इस प्रकार आपके प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी।

यह भी पढ़े – राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन क्या है? राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की शुरुआत कब की गई थी?

Leave a Reply

Your email address will not be published.