बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलू उपाय।

बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलू उपाय:- आमतौर पर ऑक्टूबर के महीने से मौसम में परिवर्तन होना शुरू हो जाता है। बदलती ऋतु से छोटे बच्चों की सर्दी जुकाम खांसी की समस्याएं शुरू हो जाती है। बच्चों को जुकाम होने से, खांसी होने से बहुत परेशानी होती है। कभी-कभी तो ऐसा भी होता है की नाक़ के बंद होने से या गले में बलगम जमने से छोटे बच्चों को दूध पीने में बहुत परेशानी होती है। निम्नवत ब्लॉग में सर्दियों में बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलु उपाय के बारे में विस्तार में बताया गया है। इस आलेख में बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलु उपाय इसकी समुचित जानकारी हिंदी में उपलब्ध करायी जा रही है।

बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलू उपाय

बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलु उपाय

यह भी पढ़े – भिंडी खाने के बाद भूलकर भी न खाएं ये 2 चीजें वरना खराब हो सकता है स्वस्थ?

जुकाम, खांसी होने से बच्चों में बुखार आने की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। इन सब परेशानिओं से बचने के लिए शुरू से ही बच्चों का ध्यान रखना बहुत जरुरी हो जाता है। अगर हम शुरू से ही बच्चों को ठंडी चीजों से दूर रखने की कोशिस करें तो बच्चों को सर्दी लगने से बचाया जा सकता है। सर्दी से बचाओ के साथ-साथ बच्चों की इम्युनिटी बढ़ने पर भी हमें ध्यान देना चाहिए।

जिससे सर्दी में बाहर निकलने पर या ठंडी चीजों के संपर्क में आने पर बच्चों को सर्दी से खतरा न रहे। इस आलेख में सर्दी से छोटे व बड़े बच्चों को कैसे बचाया जाये, बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलु नुस्खे, सर्दी से होने वाली परेशानियां और डॉक्टर की सलाह कब लेना चाहिए आदि के बारे में पूरी जानकारी नीचे विस्तार में बताई गई है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारे इस ब्लॉग से बच्चों को सर्दी से बचाने के बारे में सही जानकारी मिल जाएगी।

बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलु उपाय

यहाँ पर सर्दी जुकाम खांसी से राहत पाने के असरदार घरेलु नुस्खों के बारे में बताया गया है। इन घरेलु उपायों को उपयोग में लाने से आपके बच्चों को काफी आराम मिल सकता है। अभिभावक नीचे दिए 07 प्रमुख उपायों (बच्चों को सर्दी जुकाम से राहत दिलाने के घरेलू नुस्ख़े) के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  1. अजवाइन की पोटली से – अजवाइन को तवे पर भून कर उसे पोटली में बांध लें। इस पोटली कको तकिये के निचे भी रख सकते है और हलकी गुनगुनी पोटली से बच्चे की छाती की, तलवों की और पीठ की सिकाई करने से बच्चों को आराम मिलता है। बंद नाक खुल जाती है।
  2. गुनगुने पानी से – सर्दी लग जाने पर बच्चों को गुनगुना पानी ही पिलाना चाहिए और इसी से नहलाना चाहिए।
  3. हल्दी के दूध से – 100 मिलीलीटर (ml) दूध में एक चुटकी हल्दी, तुलसी के पत्ते, मिश्री और अदरक का टुकड़ा डालकर उसे गर्म कर लें। दूध को ठंडा करके बच्चे को पिलाने से इस हल्दी वाले दूध से आराम मिलता है।
  4. शहद खिलाने से – शहद में अदरक भून कर अदरक को निकल लें। इस शहद को बच्चे को चटाने से बच्चों को खासी में आराम मिलता है।
  5. पेट्रोलियम जेली से – पेट्रोलियम जेली को बच्चों की नाक, गले और तलवे में लगाने से बच्चों को राहत मिलती है।
  6. भाप देने से – गर्म पानी में विक्स डालकर गर्म पानी की भाप देने से नाक खुल जाती है।
  7. चिकन सूप से – यदि आप नॉन वेजिटेरिअन है तो आप अपने बच्चे को सर्दी लगने पर चिकेन सुप भी दे सकते है।

इन घरेलू उपायों को अपनानें के बाद आशा है की आपके बच्चे को सर्दी, जुकाम, खांसी में राहत मिलेगी। इसमें कुछ उपाय ऐसे भी है जिनसे बढे लोगों को भी खासी जुकाम में आराम मिल सकता है।

सर्दी के प्रकोप से बच्चों को कैसे बचाएं

सर्दी, जुकाम खांसी एक संक्रामक रोग है। ये एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलता है। इसलिए अपने बच्चों को सर्दी जुकाम वाले व्यक्ति से दूर रखें। बच्चों को ही नहीं अपितु किसी भी मनुष्य को खासी जुकाम एक-दूसरे व्यक्ति से लग सकता है। बच्चों की नोज साफ करने के बाद अपने हाँथो को भी अच्छे से साफ कर लेना चाहिए। बच्चों को टीकाकरण से कान और फेफड़ों से सम्बंधित जीवणु संक्रमण नहीं होता है इससे बच्चों को खाँसी जुकाम होने पर उन्हें लड़ने में ताकत मिलती है।

हमें अपने बच्चों को भी सिखाना चाहिए की अपनी नाक साफ करने के बाद या छींकते समय हाँथ लगाने के बाद हांथों को अच्छे से बेबी हैण्डबॉश से साफ कर लेना चाहिए। डे केयर में जाने वाले बच्चों को खांसी जुकाम की समस्या ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसी सिचुएशन में कुछ दी के बच्चों को दे केयर में बच्चों को नहीं भेजना चाहिए। बच्चों की आदत होती है खिलौनों को मुंह में डालने की। तो बच्चों के खिलौने समय-समय पर धुल देने चाहिए और दूसरे बच्चों के खिलौने अपने बच्चों को नहीं देने चाहिए। ये तो रही कुछ सावधानी बरतने वाली बातें जिससे बच्चों को सर्दी लगने से बचाया जा सकता है।

सर्दी लगने से बच्चों को क्या परेशानियां होती है

  • बच्चों की नाक बंद हो जाती है और साँस लेने में परेशानी होती है।
  • बच्चों को बार-बार छींक आती है और आँखों से पानी आता है तथा सर में दर्द होता है।
  • गले में खराश बन जाती है जिससे साँस लेना कठिन होता है।
  • सीने में दर्द की तकलीफ भी उत्पन्न हो जाती है और बच्चा अच्छे से खेलता नहीं है।
  • इन सब परेशानिओं के होने से बच्चे को सर्दी का अहसास भी अधिक होता है।
  • नक् से गले में बलगम का रिसाव होने लगता है।
  • ठण्ड के मौसम में बच्चे की इम्युनिटी कैसे बढ़ाएं ?
  • गुड़ के सेवन से।
  • पालक, मशरूम, ब्रोकली, बींस और चुकंदर या दाल का सूप पिलाने से।
  • उबला हुआ अंडा या आमलेट खिलाने से।
  • सकरकंद खिलाने से।
  • आंवला खिलाने से।

सर्दी जुकाम होने पर डॉक्टर से सलाह कब ले

अगर नवजात शिशु को साँस लेने में या दूध पीने दिक्कत को रही हो तो बच्चे को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए। बच्चे को ज्यादा जोर से खांसी हो रही हो, होंठ नील पढ़ रहे हों या खांसते समय उलटी आ जा रही हो। तो बच्चे को तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए। अगर सर्दी जुकाम के साथ बच्चे को बुखार भी आ रहा हो। तो बच्चे को तुरंत हॉस्पिटल ले जाना चाहिए। यदि सर्दी जुकाम के समय बच्चे को वायरस या बैक्टीरिया कोण को प्रभावित कर रहा हो। तेज बुखार, कण में दर्द, उलटी, निमोनिया आदि की शिकायत हो रही हो तो आपके बच्चे को निमोनिया या ब्रोंकोलाइटिस की शिकायत हो सकती है। इन गंभीर स्थिति में अपने बच्चों को जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखाएँ।

यह भी पढ़े – दूध पीने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए? इन 6 चीजों के सेवन से हो सकता है सेहत को खतरनाक

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Follow us on Google News:

Mamta Jain

मैं ममता जैन मीडिया क्षेत्र में मैं तीन साल से जुड़ी हुई हूं। मुझे लिखना काफी पसन्द है और अब मैने यही मेरा प्रोफेशन बना लिया है। मैं जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएट हूं। हेल्थ, स्वास्थ्य, मनोरंजन, सरकारी योजना, क्रिकेट, न्यूज़ और ब्यूटी पर लिखने में मेरा स्पेशलाइजेशन है। हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी जानकारी जानने के लिए मुझे फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *