Budget 2022, मोबाइल और कैमरे पर आयात शुल्क घटने से दाम हो सकते हैं कम।

Budget 2022, मोबाइल और कैमरे पर आयात शुल्क घटने से इनके दाम हो सकते हैं कम, केंद्र सरकार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2022-23 के लिए 1 फरवरी 2022 को बजट पेश किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोबाइल और कैमरे पर लगने वाला आयात शुल्क को कम करने का ऐलान कर दिया है। आयात शुल्क घटने से कैमरे, मोबाइल फोन और उनके चार्जर के दामों में कमी आ सकती है।

Budget 2022, मोबाइल और कैमरे पर आयात शुल्क घटने से इनके दाम हो सकते हैं कम

Budget 2022, मोबाइल और कैमरे पर आयात शुल्क घटने से इनके दाम हो सकते हैं कम
Budget 2022: mobile phone and camera buying price will be cheap

कैसे कम होंगे दाम

वित्तीय वर्ष 2022 से 23 के बजट में वित्त मंत्री के तरफ से इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम पर लगने वाला आयात शुल्क घटा दिया जाएगा। इस आयात शुल्क के कम होने से कंपनियों की मैन्युफैक्चरिंग लागत में कमी आएगी। आयात शुल्क घटने से मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के द्वारा की जाने वाली इस स्मार्टफोन की असेंबलिंग की रफ्तार और तेज हो सकेगी। इन कंपनियों के द्वारा बनाए जा रहे मोबाइल फोन, चार्जर, मोबाइल फोन में प्रयोग होने वाले कैमरे और उनके लेंस के दामों में गिरावट आ सकती है।

यह भी पढ़े – Bachchan Pandey Kab Release Hogi, बच्चन पांडे आ रही अक्षय कुमार की नई फिल्म

भारत सरकार के द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम में मैन्युफैक्चरिंग की दर को बढ़ाने के लिए आयात शुल्क की दरों में कटौती की गई है। घरों में प्रयोग होने वाले इलेक्ट्रॉनिक से स्मार्ट मीटर और बियरेबल डिवाइस के प्रयोग में इजाफा होगा जिससे कंपनियों को अपने प्रोडक्ट का प्रोडक्शन बढ़ाने में आसानी होगी। भारत एक स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम का एक बड़ा मार्केट है।

आयात शुल्क में कमी से कंपोनेंट और चिपसेट के दाम में कमी

पिछले कुछ वर्षों में केंद्र सरकार के द्वारा आयात शुल्क में बढ़ोतरी की गई थी इस आयात शुल्क के बढ़ने से घर में प्रयोग होने वाले स्मार्टफोन के दामों में बढ़ोतरी हुई। केंद्र सरकार इस इंडस्ट्री को मजबूत करना चाहती है। जब कोरोना वायरस फैला तब पूरे विश्व में चिपसेट की कमी का सामना करना पड़ा इस चिपसेट की कमी के कारण स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग कंपनी को मैन्युफैक्चरिंग करने में समस्या आने लगी। कोरोना वायरस की वजह से वर्क फ्रॉम होम और छात्रों की ऑनलाइन क्लासेस घर पर ही शुरू होने लगी।

वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन क्लासेस होने से स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइसों की डिमांड में बड़ा उछाल आया। प्रोडक्शन कम होने की वजह से कंपनियों ने मोबाइल फोन के दाम को भी बढ़ा दिया इसी वजह से सरकार ने मोबाइल फोन पर लगने वाला आयात शुल्क घटाने का ऐलान कर दिया जिससे स्मार्टफोन की कीमतों को नियंत्रित किया जा सके।

यह भी पढ़े – रणबीर कपूर और आलिया भट्ट की नई फिल्म ब्रह्मास्त्र फिल्म कब रिलीज होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.