कैंसर रोग से बचाव के ये है 11 उपाय तथा उसका इलाज

कैंसर रोग से बचाव के उपाय तथा उसका इलाज क्या है। कैंसर रोग एक नामुराद रोग है। यदि समय रहते न संभलें तो यह मौत तक पहुंचाने में कोई कसर नहीं उठा रखता। दमा, हृदयरोग, उच्च रक्तचाप, टीवी, डायबिटीज आदि भी खतरनाक होते हैं, मगर इन सबका आज इलाज संभव है। कैंसर की पहली स्टेज पर सचेत हों तो यह भी ठीक किया जा सकता है।

कैंसर रोग से बचाव के उपाय

कैंसर रोग से बचाव के उपाय

यह भी पढ़े – चर्म रोग ठीक करने के उपाय, सफाई व खान-पान से चर्म रोग भगाएं

कैंसर रोग से बचाव के उपाय

  1. किसी भी फुंसी, फोड़े, व्रण, घाव का लम्बे समय तक बने रहना या एक ही स्थान पर बार-बार होना या नशीले व उत्तेजक पदार्थों की अधिकता लेना, एक ही स्थान पर सम्पर्क में रहकर सम्बद्ध रहना, उस स्थान पर कैंसर कर सकता है।
  2. रोग की प्रारम्भिक अवस्था में संभलकर, इस पर काबू पाना कठिन नहीं। बस, लापरवाही करेंगे तो रोग गम्भीर हो सकता है।
  3. कई भोजन ऐसे हैं, जो इस रोग को पैदा करने में सहायक होते हैं। यदि हम अत्यधिक धूम्रपान करना, शराब पीना, नशीले पदार्थ खाना, तेज मिर्च-मसाले सेवन करना, लाल मांस अधिक मात्रा में खाना बन्द कर दें तो रोग की संभावना घट जाती है।
  4. यदि गृहिणियां अपने गर्भाधान के समय, मासिक धर्म के समय या गुप्त रोगों के उपचार के दिनों में पूरी साफ-सफाई रखें, अनियमितता व लापरवाही न होने दें तो इस रोग के होने की संभावना कम की जा सकती है।
  5. फोड़ा, घाव, चोट लगने पर तुरन्त और सही उपचार कर लेने से इनका बार-बार होना रोका जा सकता है। कैंसर भी नहीं होगा। विटामिन ‘सी’ की कमी भोजन में मत होने दें। इसके लिए आंवला, संतरा, मौसमी, नींबू आदि का सेवन जरूरी है।
  6. ऐसे पदार्थ अवश्य लें जिनमें विटामिन ‘ए’ तथा ‘सी’ हों।
  7. 1000 मि. ग्रा. विटामिन ‘सी’ हमारे भोजन में प्रतिदिन की मात्रा अवश्य रहे तथा नियमित रहे।
  8. शरीर में जाने वाली कुल कैलोरीज का 30 प्रतिशत से अधिक वसा या चिकनाई कभी न होने दें।
  9. अपने भोजन में 25 ग्राम रेशे या फाइबर प्रतिदिन लेना मत भूलें। यह कब्ज नहीं होने देंगे। पेट साफ रखेंगे। कैंसर नहीं होगा।
  10. ट्यूमर हो जाना भी कैंसर का कारण हो सकता है। अतः विटामिन ‘बी-2’ तथा ‘सी’ नियमित लेकर प्रतिरक्षा क्षमता बढ़ाएं। मैदा, तले पदार्थ, मसाले, मिर्च, केक, कॉफी, चाय, मादक द्रव्य, लाल मांस, धूम्रपान, शराब, गुटका, तम्बाकू का सेवन बन्द कर दें।
  11. अधिक से अधिक फल, सब्जियां, पत्तेदार सब्जियां, चोकर, ब्राऊन चावल, शलगम, मूली, गाजर, लहसुन, पत्ता गोभी खाया करें।

यह भी पढ़े – गर्भावस्था में क्या सावधानी रखनी चाहिए तथा उपचार

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Subscribe with Google News:

Leave a Comment