आयकर विभाग के अनुसार घर पर कितना कैश रख सकते हैं नहीं तो देना होगा भारी जुर्माना, ये है इनकम टैक्स का नियम

घर पर कितना कैश रख सकते हैं: आयकर विभाग ने कोई ऐसी निर्देशिका जारी नहीं किया है जो बताए कि घर पर कितना कैश रख सकते हैं या अधिकतम राशि रखने की क्या लिमिट (cash limit at home according to income tax department in hindi) होनी चाहिए। हालांकि, आयकर विभाग ने कई साधारण निर्देश जारी किए हैं जिन्हें आप अपने आयकर और निवेश के संबंध में ध्यान में रख सकते हैं।

आमतौर पर, यदि आपके पास ज्यादा नकदी होती है तो आपको आयकर विभाग को सूचित करना होगा। इससे पहले नकद राशि को बैंक में जमा करें या अन्य निवेश विकल्पों में निवेश करें। आयकर विभाग के अनुसार (Cash Limit at Home), यदि किसी व्यक्ति के पास ज्यादा से ज्यादा नकद धन होता है और वह इस बारे में आयकर विभाग को सूचित नहीं करता है, तो उसे कड़ी सजा भुगतनी पड़ सकती है।

घर पर कितना कैश रख सकते हैं

घर पर कितना कैश रख सकते हैं

Cash Limit at Home

अतिरिक्त कैश रखने के मामले में, आयकर विभाग आपको उसकी जानकारी देने के लिए कह सकता है और आपको अपनी आयकर रिटर्न फाइल करते समय इस नकदी का उल्लेख करना होगा। आयकर विभाग ने अधिकतम सीमा बढ़ाने का कदम उठाया था क्योंकि वे नकदी संचय को दुरुस्त करने और नकदी के अवैध उपयोग को रोकने के लिए प्रयास कर रहे हैं। इससे लोगों को बैंकिंग नेटवर्क के माध्यम से पैसों का जमा करने और नकदी का उपयोग कम करने की सलाह दी जाती है।

अधिकतम सीमा बढ़ाने के साथ-साथ, आयकर विभाग ने अवैध नकदी जमा को रोकने के लिए कई और उपाय अपनाए हैं। उनमें से एक है कि आयकर विभाग ने नकदी जमा को जांचने के लिए नकदी जमा मशीनों का उपयोग शुरू किया है। इसके अलावा, आयकर विभाग ने अवैध नकदी का उपयोग करने वालों को सख्त नुकसान करने की चेतावनी दी है।

अधिक कैश रखने पर कितना लगता है जुर्माना

आपको पता होना चाहिए कि घर पर कैश कितना रखना चाहिए यदि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट आपके घर पर छापा मारती है और छापे में आपके घर से काफी नगदी प्राप्त करती है वैसे तो घर पर नगदी रखने की कोई सीमा नहीं है बस आपको इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को इस नकदी के लेनदेन का सारा देवरा आपको देना होता है यदि आप नकदी के लेन-देन का हिसाब इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को नहीं दे पाते हैं।

तो आप पर भारी-भरकम जुर्माना लग सकता है जितना भी आपके पास नकदी राशि बरामद होती है उसका आपके ऊपर 137% तक का टैक्स लगाया जा सकता है। इसका मतलब यह है कि आपके पास से बरामद किया गया कैश तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट जब तक कर लेगा और उसके ऊपर से भी आपको दंड के रूप में 37% का जुर्माना भुगतान करना पड़ सकता है।

इन बातों का रखें ध्यान

  • वित्तीय वर्ष में में यदि आप 1 वर्ष में 20 लाख रुपए से अधिक का नगद लेनदेन करते हैं तो आपके ऊपर जो मैंने लगाया जा सकता है।
  • यदि आप बैंक खाते से₹50000 की धनराशि से अधिक कैसे निकालते हैं या जमा करते हैं तो आपको पैन कार्ड देना अनिवार्य है।
  • कोई भी व्यक्ति यदि 1 साल में 20 लाखों रुपए कैश जमा करता है तो बैंक में उसे पैन कार्ड और आधार कार्ड की जानकारी देना अनिवार्य है।
  • ₹2 लाख रुपए से अधिक की खरीदारी कैश में नहीं कर सकते हैं। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको पैन कार्ड और आधार कार्ड की जानकारी देना अनिवार्य है।
  • संपत्ति को खरीदने या बेचने के लिए आप 3000000 से अधिक गैस में भुगतान नहीं कर सकते यदि आप ऐसा करते हैं तो आप जांच एजेंसियों की नजर में आ जाएंगे।
  • जिन व्यक्तियों के पास क्रेडिट और डेबिट कार्ड हैं और वह₹100000 से अधिक नगद में भुगतान करते हैं तो उनके ऊपर जांच हो सकती है।
  • 1 दिन में आप अपने रिश्तेदारों से ₹2 लाख रुपए कैश में नहीं ले सकते हैं।
  • यदि आप दान करना चाहते हैं तो भी उसकी सीमा निर्धारित है आप ₹2000 तक ही केस में दान कर सकते हैं।
  • जरूरत के समय कोई भी व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से ₹20000 से अधिक नगद धनराशि ऋण के रूप में नहीं ले सकता है।
  • 2 करोड़ का पैसा ज्यादा कैश निकालने पर बैंक में आपको टीडीएस देना होगा।

यह भी पढ़े –

Leave a Comment