CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022? बोर्ड की परीक्षा दो टर्म में ली जाएगी?

CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए एक नई स्कीम बनाई है इस स्कीम के जरिए बच्चों की परीक्षा दो टर्म में ली जाएगी। पहले चरण की परीक्षा नवंबर से दिसंबर के बीच में ली जाएगी और दूसरे चरण की परीक्षा मार्च और अप्रैल के बीच में ली जाएगी यह जानकारी सोमवार को सीबीएससी बोर्ड ने 2021-22 के सत्र के लिए जारी की है।

CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022?

CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022

CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022?

कोरोना महामारी की वजह से 2000 और 2021 के दोनों सत्रों में बोर्ड को परीक्षा Cancel करना पड़ा और छात्रों को पास करने के लिए एक बड़ा चैलेंज बोर्ड के पास था।

इन सब समस्याओं को सुलझाने के लिए सीबीएसई बोर्ड ने एक बोर्ड की मीटिंग में सभी सरकारी स्कूलों और प्राइवेट स्कूलों को ध्यान में रखते हुए यह डिसीजन लिया कि इस बार के सत्र 2021 से 2022 के बच्चों के एग्जाम दो टर्म में लिए जाएंगे।

कोरोना महामारी की वजह से बच्चों की चल रही ऑनलाइन पढ़ाई से चिंतित होकर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने यह निर्णय लिया है और एक नोटिफिकेशन जारी कर दिया है इस सत्र के छात्रों के एग्जाम दो टर्म में लिए जाएंगे।

सीबीएसई बोर्ड के मुताबिक इस पैटर्न के अनुसार छात्रों के पाठ्यक्रम को भी कम करने की अपील की गई है ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि ऑनलाइन क्लास होने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाया और ऑनलाइन में पाठ्यक्रम सही से नहीं हो पाता है इस वजह से सीबीएसई बोर्ड पाठ्यक्रम को कुछ करेगी।

परीक्षा का पैटर्न कैसा होगा

परीक्षा दो टर्म में ली जाएगी पहले चरण की परीक्षा MCQ में ली जाएगी और जिसमें MCQ के 40 प्रश्न पूछे जायेंगे और रिजनिंग टाइप MCQ पूछे जाएंगे और इस परीक्षा की अवधि 90 मिनट की रखी जाएगी और इस परीक्षा में जो भी प्रश्न पूछे जाएंगे वह पाठ्यक्रम एक के अनुसार पूछे जाएंगे क्योंकि 10वीं और 12वीं के पूरे पाठ्यक्रम का 50% होगा सीबीएसई बोर्ड इन प्रश्न पत्रों को सभी स्कूलों को एक मार्किंग स्कीम के साथ भेजेगी।

दूसरे टर्म की परीक्षा बचे हुए 50% सिलेबस से ली जाएगी। इस परीक्षा की अवधि को 2 घंटे निर्धारित किया गया है जिसमें कई प्रकार के सवाल पूछे जाएंगे (केस बेस्ड, ओपन एंडेड-शॉर्ट, लॉन्ग जवाब टाइप)। यदि कोरोना केस में वृद्धि होती है और स्थिति सामान्य नहीं रहती है तब इस स्थिति में बोर्ड दूसरे टर्म में भी MCQ एग्जाम लेकर परीक्षा समाप्त करा सकती है।

बोर्ड ने एक नोटिफिकेशन जारी भी किया है जो की आपको निचे दिया गया है।

CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022
CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022
CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022
CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022
CBSE Exam In 2 Terms Rule 2021-2022

यह भी पढ़े –

Leave a Reply

Your email address will not be published.