डायबिटीज के घरेलू उपाय, शुगर में किन चीजों का परहेज करना चाहिए

आज के समय में डायबिटीज के घरेलू उपाय जानना बहुत ही जरूरी है। डायबिटीज ही मधुमेह है। यही शुगर का रोग कहलाती है। इसके नाम से भी अब लोग डरने लगे हैं। मगर यह है कि हर तीसरे व्यक्ति को अपनी लपेट में ले लेता है। इसको खाद्य पदार्थों की मदद से काबू में रखें। मधुमेह डाइट चार्ट प्लान, डायबिटीज में क्या नहीं खाना चाहिए, शुगर में किन चीजों का परहेज करना चाहिए इन सभी प्रश्नो के उत्तर यहाँ दिए गए है।

डायबिटीज के घरेलू उपाय

डायबिटीज के घरेलू उपाय

यह भी पढ़े – कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के उपाय, कोलेस्ट्रॉल कम करने का रामबाण इलाज

शुगर (डायबिटीज) में क्या नहीं खाना चाहिए

जो पदार्थ खाना बन्द करने जरूरी हैं, पहले वे सुनें-

S.Noनाम
1.मीठा
2.मिठाई
3.पेस्ट्री
4.मीठे पेय
5.गाजर
6.चुकन्दर
7.चॉकलेट
8.आइसक्रीम
9.मीठे बिस्कुट
10.गन्ना
11.गन्ने का रस
12.गुड़
13.शक्कर
14.अनाजों में चावल तथा गेहूं
15.आलू
16.ब्रेड (डबल रोटी), बन्द आदि
17.केला
18.अंगूर
19.शरीफा
20.लीची
21.आम आदि हां, उबला हुआ आलू खा लें
22.शराब
23.कैफीन

मतलब यह कि कोई भी हानिकारक पदार्थ न खाएं जो रोग बढ़ाता हो।

डायबिटीज के घरेलू उपाय

  • प्रयत्न करके मोटापा कम करें। वसा कम खाएं। मेथी, जामुन, करेला, लहसुन तथा रेशेदार खाद्य पदार्थ इस रोग को कम करने व ठीक करने वाले हैं।
  • शलगम उबालकर खाएंगे तो चीनी भी निकल जाएगी। इसमें स्टार्च तथा कार्बोहाइड्रेट बहुत कम होते हैं। अतः यह उपयोगी रहता है।
  • खमीर में कार्बोहाइड्रेट से भी शर्करा कम होती है। यह इंसूलीन पैदा करता है। इसमें फासफोरस भी काफी रहता है। अतः उपकारी है।
  • कच्चे केले को बतौर सब्ज़ी खा सकते हैं। यह मोटापा नहीं करेगा। चूंकि नींबू में विटामिन ‘सी’ होता है। यह संरक्षण शक्ति बढ़ाता है। यह खून में से विषाक्त तत्व हटा देता है। शरीर साफ़ करता है।
  • चने का सूप तथा चने का आटा, दोनों इस रोग में शरीर की शर्करा को आत्मसात करने में मदद करते हैं। चने में प्रोटीन की मात्रा तो अधिक रहती है जबकि कार्बोहाइड्रेट की मात्र कम। अतः लाभकर है।
  • रक्त में मौजूद शर्करा की मात्रा को कम करने में उड़द की दाल बहुत ठीक बैठती है। इसी के साथ खाना खाने की सलाह देते हैं।
  • साबुत उड़द को अंकुरित करें। इसको पीसकर दूध निकालें। दूध कहें या रस, इसका सार निकाल लें, यह भी रक्त की शर्करा को कम करने में मदद करती है। सावधानी – यदि कोई मधुमेह रोग के साथ वात का रोगी है या जिस की पाचन शक्ति कमज़ोर है, वह उड़द वाले इस उपचार को न अपनाए ।
  • आम के कोमल पत्तों को तोड़कर, दिन में तीन बार, थोड़े-थोड़े चबाएं तो काफी जल्दी लाभ मिलता है।
  • जो व्यक्ति शुरू में दी गई सूची के खाद्य पदार्थ नहीं खाए तथा यहां दिए कुछ घरेलू उपचार करे तो वह इस रोग को ख़त्म कर सकता है।
  • सोयाबीन को विभिन्न तरीकों से ले सकते हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेटस की कमी होती है जबकि प्रोटीन की अधिकता। अतः ज़रूर सेवन करें।
  • सोयाबीन की दही, दूध, बड़ियां, नमकीन, आटा, सब्ज़ी के रूप में लें जो कि पेशाब की शुगर को कम कर, रोग को शांत कर देता है।
  • डायबिटीज़ के रोग को काबू करने तथा ख़त्म करने में ककड़ी, खीरा, सलाद के पत्ते, मूली, मूली के पत्ते, पालक आदि का नियमित सेवन करें यह प्रतिरक्षा क्षमता तो बढ़ाएंगे ही रोग में काफी राहत दे पाएंगे।

यह भी पढ़े – हृदय रोग से बचाव के उपाय, हार्ट का बीमारी कैसे ठीक होता है

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Subscribe with Google News:

Leave a Comment