दिवालिया होने के फायदे? दिवालिया कैसे कहते है?

यदि किसी व्यक्ति को दिवालिया घोषित कर दिया जाता है तो दिवालिया होने के फायदे भी हैं और इसके नुकसान भी है। किसी व्यक्ति को दिवालिया (Diwaliya Hone Ke Fayde) घोषित कब किया जाता है जब तक उसे कानूनी तौर पर घोषित ना कर दिया जाए जैसा कि आप विजय माल्या को तो जानते ही हैं जिसे दिवालिया घोषित कर दिया था।

यदि आप सोच रहे हैं दिवालिया घोषित होने पर आपको सभी समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है तो आप बहुत बड़ी गलती करने जा रहे हैं क्योंकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। किसी भी व्यक्ति को दिवालिया घोषित करने के लिए कड़े कानून बनाए जाते हैं और इसके लिए आपको अर्जी देनी होती है।

दिवालिया होने के फायदे

दिवालिया होने के फायदे
Bankruptcy

दिवालिया होने का मतलब क्या है

दिवालिया किसी व्यक्ति को तब माना जाता है जब उसे कानूनी रूप से दिवालिया घोषित कर दिया जाता है। यह स्थिति तब आती है जब व्यक्ति बड़े कर्ज में डूब जाता है कर्ज में डूबने या उसकी वित्तीय स्थिति बिगड़ने के कारण वह कर्ज चुकाने में असमर्थ होता है तब वह व्यक्ति अपने आप को दिवालिया घोषित करने के लिए कोर्ट में आवेदन देता है और कानूनी तौर से घोषित होने के बाद ही उस व्यक्ति को दिवालिया घोषित किया जाता है।

खुद को दिवालिया घोषित कैसे करें

किसी भी व्यक्ति या कंपनी का दिवालियापन एक ऐसी स्थिति है जिसमें उसकी वित्तीय स्थिति काफी बिगड़ जाती है जिसके कारण वह अपने दिन दारू का पैसा चुकाने या भुगतान करने में असमर्थ हो जाता है तब इस स्थिति में वह व्यक्ति खुद को दिवालिया घोषित कर सकता है।

दिवालिया घोषित करने के लिए देश के कानून के मुताबिक यदि कोई व्यक्ति किसी शख्स का ₹500 उधार लौटाने में सक्षम नहीं है तो उसके खिलाफ दिवालियापन का केस दर्ज हो जाता है दिवालियापन के केस की प्रक्रिया बहुत ही पेचीदा होती है और इसकी प्रक्रिया कई दिनों तक चलती है।

दिवालिया घोषित होने के बाद क्या होता है

कानूनी रूप से आपको यदि दिवालिया घोषित कर दिया जाता है तू दिवालिया होने वाले व्यक्ति के पास यदि किसी भी प्रकार की संपत्ति है तो अदालत की तरफ से एक नियुक्त अधिकारी उस संपत्ति की बिक्री करेगा या फिर आपके पास से किसी भी प्रकार की वस्तु या चीज जिसकी बिक्री करके पैसा वसूला जा सके वह अधिकारी उस प्रक्रिया को आगे बढ़ाता है।

बिक्री होने के बाद आपके रेड दाताओं में वह रकम बांट दी जाती है। दिवालिया घोषित होने का सबसे बड़ा फायदा यह है जिससे आपने कर्ज लिया है वह व्यक्ति अब आपको ऋण चुकाने के लिए बाध्य नहीं कर सकता है।

ऋण चुकाने के बाद बकाया पैसे का क्या होता है

आप किरण दाताओं को पैसा देने के बाद यदि पैसा बच जाता है तो यदि आपका आयकर बकाया है तो उसका भी भुगतान किया जाता है। यदि इन सब प्रक्रिया के बाद भी पैसा बच जाता है तो उस पैसे को केंद्र सरकार और राज्य सरकार में बांट दिया जाता है। बचा हुआ पैसा आपको नहीं दिया जाता है।

यह भी पढ़े –

Subscribe with Google News:

Leave a Comment