डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम का जीवन परिचय? डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम पर निबंध?

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम का जीवन परिचय (Dr. A. P. J. Abdul Kalam Ka Jivan Parichay), डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर, 1931 को तमिलनाडु के दक्षिण-पश्चिम तटीय क्षेत्र धनुषकोटि रामेश्वरम् में हुआ था। इनके पिता जैनुलाबदीन समुद्र से मछलियाँ पकड़कर परिवार का भरण-पोषण करते थे। डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम पर निबंध?

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का जीवन परिचय (Dr. A. P. J. Abdul Kalam Ka Jivan Parichay)

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का जीवन परिचय
डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का जीवन परिचय (Dr. A. P. J. Abdul Kalam Ka Jivan Parichay)

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का जीवन परिचय (Dr. A. P. J. Abdul Kalam Ka Jivan Parichay)

जन्म15 अक्टूबर, 1931
जन्म स्थानतमिलनाडु के दक्षिण-पश्चिम तटीय क्षेत्र धनुषकोटि रामेश्वरम्
निधन27 जुलाई 2015
भारत के राष्ट्रपति25 जुलाई, 2002

जन्म एवं शिक्षा

इनका पूरा नाम डॉ. अब्दुल पाकिर जैनुलाबदीन अब्दुल कलाम (ए. पी. जे. अब्दुल कलाम) अपनी प्रखर प्रतिभा और संघर्ष शक्ति के बल पर एक निर्धन परिवार से उठकर देश के सर्वोच्च पद पर पहुँचे हैं।

1939 में द्वितीय विश्वयुद्ध के समय केवल आठ वर्ष की आयु में श्री अब्दुल कलाम ने इमली के बीज और अखबार बेचकर अपनी स्वयं की कमाई का गर्व अनुभव किया था। हायर सेकेन्डरी की पढ़ाई के लिए उन्हें घर छोड़कर रामनाथपुरम् में जाना पड़ा जो उन्होंने प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की।

उन्होंने बी. एस-सी. की परीक्षा सेंट जोसफ कॉलेज, त्रिचुरापल्ली से प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की। आगे की पढ़ाई उन्होंने ट्यूशन करके और अंग्रेजी दैनिक ‘हिन्दू’ में विज्ञान पर लेख लिखकर प्रथम श्रेणी में एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से विशेष दक्षता प्राप्त की।

कार्य क्षेत्र

1958 में डॉ. कलाम ने डी. आर. डी. ओ. (डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन) में नौकरी शुरू की। 1963 से 1980 तक उन्होंने विक्रम साराभाई स्पेस रिसर्च सेंटर में काम किया। डॉ. कलाम पी. एस. एल. वी. परियोजना के निदेशक थे।

इसके बाद उन्होंने मिसाइल कार्यक्रम के क्षेत्र में एक के बाद एक कई सफलताएँ प्राप्त कीं, यहाँ तक कि उन्हें मिसाइल मैन के रूप में ही जाना जाता है। उन्होंने पृथ्वी, आकाश, त्रिशूल, नाग और अग्नि नामक महत्वपूर्ण मिसाइलें देश को दीं।

सम्मान

डॉ. कलाम को 1980 में नेशनल मिसाइल अवार्ड, 1981 में पद्मभूषण, 1990 में पद्मविभूषण तथा 1997 में भारत रत्न की उपाधियों से सम्मानित किया गया।

डॉ. कलाम का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है। कई प्रधानमंत्रियों के वे रक्षा सलाहकार रह चुके हैं। कई बड़े-बड़े पदों पर वे कार्य कर चुके हैं किन्तु उनमें घमण्ड नाम को भी नहीं है। वे अभी तक अविवाहित हैं।

वे ऐसे महान वैज्ञानिक हैं जो देश को 20 साल में समृद्ध, शिक्षित और विकसित बनाने का विश्वास रखते हैं। वे ऐसे मिसाइल पुरुष हैं जो देश से गरीबी का खात्मा तकनीकी उपाय से करना चाहते हैं। उनका कहना है: “Technology can change the future of man.

18 जुलाई, 2002 को आप 89.58 प्रतिशत वोट प्राप्त करके राष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित हुए। 25 जुलाई, 2002 को आपको भारत के राष्ट्रपति पद की शपथ दिलायी गई और तब से आप इस गरिमामयी पद पर सुशोभित हैं। इनका निधन 27 जुलाई 2015 को हुआ था।

यह भी पढ़े –

Follow us on Google News:

Kamlesh Kumar

मेरा नाम कमलेश कुमार है। मैं मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (Master in Computer Application) में स्नातकोत्तर हूं और CanDefine.com में एडिटर के रूप में कार्य करता हूँ। मुझे इस क्षेत्र में 3 वर्ष का अनुभव है और मुझे हिंदी भाषा में काफी रुचि है। मेरे द्वारा स्वास्थ्य, कंप्यूटर, मनोरंजन, सरकारी योजना, निबंध, जीवनी, क्रिकेट आदि जैसी विभिन्न श्रेणियों पर आर्टिकल लिखता हूँ और आपको आर्टिकल में सारी जानकारी प्रदान करना मेरा उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *