गाय का घी खाने के फायदे? गाय का घी खाने से क्या फायदा होता है?

गाय का घी खाने के फायदे

गाय का घी खाने के फायदे (Gay Ka Ghee Khane Ke Fayde), गाय के घी के फायदे, भारत में कई पकवानों में घी का इस्तेमाल किया जाता है। कई घरों में घी बाजार से खरीद कर आता है और अधिकतर घरों में घी घर में ही बनाया जाता है। गाय का घी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है आयुर्वेद में गाय के घी के कई फायदों के बारे में उल्लेख भी किया गया है।

गाय का घी खाने के फायदे (Gay Ka Ghee Khane Ke Fayde)

गाय का घी खाने के फायदे
गाय का घी खाने के फायदे (Gay Ka Ghee Khane Ke Fayde)

विषय सूची

गाय का घी खाने के फायदे (Gay Ka Ghee Khane Ke Fayde)

कैसे बनता है गाय का घी / गाय का घी कैसे बनता है?

गाय और भैंस के घी को बनाने की एक ही प्रक्रिया है। गाय के दूध को अच्छी तरह से उबालकर उसका क्रीम यानी मलाई निकाला जाता है फिर इस क्रीम को फेट कर मक्खन निकाला जाता है। मक्खन को अच्छी तरह से पकाने पर घी निकलता है।

गाय के घी के फायदे

गाय के घी के कई फायदे हैं जैसे:-

गाय के घी के फायदे मजबूत हड्डियों के लिए

गाय के घी में विटामिन K और विटामिन K2 होता है। हड्डियों के लिए विटामिन और कैल्शियम अच्छा होता है। गाय के घी के सेवन से हड्डियां मजबूत बनती हैं और जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। गाय के घी का सेवन एक नियमित मात्रा में करने से सभी प्रकार के हड्डियों की समस्या दूर हो सकती है।

गाय के घी के फायदे ऊर्जा स्तर को बढ़ाने के लिए

घी के सेवन से शरीर में उर्जा उत्पन्न होती है क्योंकि इसमें विटामिन A, E, D और K मौजूद होता है जो शरीर को अच्छी उर्जा और सहनशक्ति के लिए बहुत गुणकारी होता है। कई एथलीट कुश्ती करने वाले या कसरत करने वाले व्यक्ति अपनी उर्जा को बढ़ाने के लिए घी का सेवन करते हैं।

गाय के घी के फायदे माइग्रेन, सिर दर्द और बालों के लिए

गाय के घी की लगभग दो बूंद को भोजन करने के 30 मिनट पहले अगर दिन में दो बार नाक में डाला जाए तो इससे कई समस्याओं में आराम मिलता है जैसे :- माइग्रेन, सिर दर्द, आंखों और कानों की समस्या, स्मृति और एकाग्रता की कमी, टिनीटिस

इस क्रिया को लगातार 2 से 6 हफ्ते तक किया जा सकता है। गाय के घी को अगर गुनगुना करके बालों की जड़ों में लगाया जाए तो इससे बाल गिरने और सफेद बाल की समस्या भी ठीक हो सकती है।

नोट :- अगर आपको सर्दी बुखार खांसी है या आप को साइनसाइटिस है या ठंड लगी हो तो घी की बूंदें नाक में डालने का उचित समय नहीं है। इसके साथ ही यदि बरसात का मौसम हो या सर्दी का मौसम या फिर काले बादल घिरे हो तो इस समय भी इस कार्य से बचें।

गाय के घी के फायदे धूल एलर्जी में राहत पाने के लिए

अगर आपको किसी प्रकार की डस्ट एलर्जी है या फिर साफ सफाई करते समय धूल नाक में जाने से आपको छींक आने लगती है तो गाय का घी आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित होगा। घर के बाहर जाने से पहले या फिर साफ सफाई करने से पहले अपने नाक की भीतरी दीवार पर अपनी उंगलियों के सहायता से यदि आप गाय का घी थोड़ा सा लगा ले तो धूल और दस्त की एलर्जी से बच सकते हैं।

गाय के घी के फायदे गर्भवती महिला के लिए

गर्भावस्था के दौरान यदि महिला गाय के घी का सेवन करती हैं इससे उनके शरीर को अच्छी मात्रा में विटामिन और कैल्शियम मिलता है और इसके साथ ही गर्भ में पल रहे शिशु काफी स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है। गर्भावस्था को यदि स्थिर करना हो तो गाय का घी नाल शेत्र (umbilical region) के नीचे भी लगाया जा सकता है।

गाय के घी के फायदे घरेलू उपचार के लिए

गाय के घी के कई घरेलू उपचार हम सदियों से सुनते आ रहे हैं इनमें से कुछ महत्वपूर्ण उपचार नीचे दिए गए हैं:-

  • एनीमिया का उपचार करने के लिए गाय का घी, चीनी और त्रिफला का काढ़ा फायदेमंद होता है।
  • गाय के घी में हरीतकी पाउडर को मिलाकर सेवन करने से जलन में राहत मिलती है।
  • अगर किसी व्यक्ति को लंबे समय से ज्वर है तो गाय के घी के साथ लहसुन को आहार के रूप में सेवन करने से लाभ मिलता है।
  • यदि मूत्राशय में किसी प्रकार का दर्द महसूस होता है तो सुबह नाश्ते से पहले एक चम्मच गाय का घी के सेवन से दर्द में आराम मिलता है।
  • यदि किसी को ठंड लग गई है तो गाय के घी में सेंधा नमक को मिलाकर पीठ और छाती पर हल्के हाथ से मालिश करने से फेफड़ों में जमा हुआ कफ निकल जाता है।

गाय के घी के फायदे सेक्स के लिए

गाय के घी के सेवन से महिला और पुरुष की शुक्र धातु यानी प्रजनन प्रणाली की गुणवत्ता को बढ़ाता है। इसके रोजाना थोड़ी मात्रा में सेवन से स्वास्थ्य को काफी पौष्टिक लाभ मिलता है और ऊर्जा भी मिलती है।

गाय के घी के फायदे त्वचा की मालिश के लिए

जिन व्यक्ति की त्वचा काफी शुष्क है उनके लिए घी बहुत गुणकारी है। त्वचा पर घी या दूध से हल्की मालिश करने से त्वचा मॉइश्चराइज होती है और चमक उठता है। इसका इस्तेमाल आप अपने होठों पर भी कर सकते हैं। जिससे आपके होंठ जल्दी नहीं फटेंगे।

गाय के घी के फायदे बुखार के बाद कमजोरी के लिए

किसी भी प्रकार के घी का सेवन सर्दी खांसी या बुखार के समय में नहीं करना चाहिए इससे आपकी तबीयत और बिगड़ सकती हैं। लेकिन जब आप पूरी तरह स्वस्थ हो जाए तो घी का सेवन कर सकते हैं जिससे बुखार के बाद आई कमजोरी में राहत मिलती है।

गाय के घी के फायदे नवजात शिशु के लिए

नवजात शिशु के के लिए मां का दूध ही सर्वोत्तम दूध माना गया है लेकिन यदि किसी कारणवश मां अपना स्तनपान नहीं करा सकती तो शिशु के लिए गाय का दूध पिलाने की सलाह दी जा सकती है। यदि बच्चा कमजोर हो तो घी की 2 से 5 बूंदे शिशु को दी जा सकती है।

गाय के घी के फायदे आंखों के लिए

यदि आंखों के स्वास्थ्य को और बेहतर बनाना है तो गाय के घी से किया गया उपचार काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। आटे मैं घी और पानी मिलाकर दो लेइ तैयार कर ले और इसे आंखों के चारों ओर लगा ले इसके बाद आंखों को बार-बार बंद करना और खोलने की प्रक्रिया करने से आंखों के स्वास्थ्य में सुधार आता है।

गाय के घी के फायदे गठिया के लिए

शरीर को किसी प्रकार की सूजन से लड़ने के लिए ब्यूटीरिक एसिड की जरूरत पढ़ती है जो शॉर्ट चैन फैटी एसिड में से एक है। गठिया की समस्या में घी का सेवन और जी से जोड़ों पर मालिश करने से आराम मिलता है और सूजन भी कम होने लगती है।

गाय के घी के फायदे मौखिक अल्सर के लिए

गाय के घी के सेवन से या फिर मुंह के छालों पर या अल्सर पर लगाने से इसमें जल्द ही आराम मिलता है।

गाय के घी के फायदे पूजा के लिए

देसी गाय का घी पूजा के लिए सबसे शुभ और स्वस्थ माना गया है। हिंदू धर्म में पूजा या आरती करने के लिए या भगवान को चढ़ाया जाने वाला भोग के लिए देसी गाय का शुद्ध घी का ही इस्तेमाल किया जाता है।

गाय के घी के हानिकारक प्रभाव / गाय के घी के नुकसान

  • अगर आप मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं तो किसी भी प्रकार के घी के सेवन से परहेज करना चाहिए क्योंकि यह मोटापे को और बढ़ा सकता है।
  • घी का सेवन हमेशा सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। ज्यादा मात्रा में घी के सेवन से दस्त की समस्या और अपच भी हो सकती है।
  • कई बीमारियों मैं जैसे हेपेटाइटिस फैटी लीवर पीलिया के दौरान किसी भी प्रकार के जी अथवा तैलीय भोजन से बचना चाहिए।
  • अगर आप घी का सेवन भोजन के साथ कर रहे हैं तो इस बात का ध्यान जरूर रखें कि भोजन हमेशा गर्म हो।
  • यदि गलती से या किसी भी प्रकार से आपने घी का अधिक मात्रा में सेवन कर लिया है तो उसके कुछ देर बाद गर्म पानी पिए और कुछ ना खाएं जब तक आप हल्का ना महसूस करने लगे।

यह भी पढ़े –

नोट :- इस पेज पर हमारे द्वारा दी गई सभी जानकारियों पर अमल करने से पहले यह राय देना चाहते हैं कि आप अपने विशेषज्ञ चिकित्सक या किसी डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

Leave a comment

Your email address will not be published.