हरा धनिया खाने के फायदे और नुकसान क्या-क्या है।

हरा धनिया खाने के फायदे और नुकसान:- हरा धनिया कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्त्रोत माना गया है। कई व्यंजनों में हरा धनिया का इस्तेमाल किया जाता है। हरा धनिया ना केवल व्यंजनों के स्वाद को बढ़ाता है बल्कि इसमें कई प्रकार के औषधीय गुण भी मौजूद होते हैं। धनिया में कई जब घटक पाया जाता है जो जड़ी बूटी के समान काम करता है। इसके सेवन से डायबिटीज एंटीऑक्सीडेंट मिर्गी सूजन ब्लड प्रेशर को कम करने वाले खून में लिपिड को कम करने वाले दिमाग की कोशिकाओं को सुरक्षा देने वाले जैसे कई गुण मौजूद होते हैं।

हरा धनिया खाने के फायदे और नुकसान (Hara Dhaniya Khane Ke Fayde Aur Nuksan)

हरा धनिया खाने के फायदे और नुकसान
Hara Dhaniya Khane Ke Fayde Aur Nuksan

हरा धनिया खाने के फायदे

  • हरा धनिया मैग्नीस कैल्शियम मैग्नीशियम पोटेशियम जैसे कई तत्व पाए जाते हैं जो रक्तचाप को सुचारू रूप से संचालित रखता है।
  • दुनिया के सेवन से तनाव दूर रहता है जिसके कारण ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है।
  • हरे धनिया को पीसकर उसका पेस्ट बालों में लगाएं और 1 घंटे बाद शैंपू कर लें ऐसा करने से बालों का झड़ना कम हो जाता है यह प्रक्रिया आप हफ्ते में एक बार कर सकते हैं।
  • दुनिया में ऐसे कई तत्व मौजूद होते हैं जो स्किन के विभिन्न प्रकार के समस्या मैं आराम दिलाता है जैसे फंगल इंफेक्शन सूखे पन एग्जिमा ।
  • बढ़ती उम्र के कारण त्वचा पर झुर्रियां और तार सर्कल आने लगते हैं इन समस्याओं को भी धनिया के सेवन से कम किया जा सकता है।
  • धनिया के बीज को उबालकर काढ़ा बनाकर आंखों को धोने से आंखों की कई समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। आप खाली पेट भी धनिया का सेवन कर सकते हैं।
  • हरा धनिया के इस्तेमाल से या धनिया पाउडर या धनिया के बीच के इस्तेमाल से मधुमेह की समस्या को भी कम किया जा सकता है। इसके लिए आप धनिया को रात भर पानी में भिगो लें और सुबह उठकर उस पानी को पी ले।
  • जिन महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान अधिक रक्त स्त्राव रहता है उन महिलाओं को धनिए के बीज के पानी का सेवन करना चाहिए। धनिया में आयरन अच्छी मात्रा में होता है जो शरीर में आयरन की कमी को दूर करता है।
  • धनी के बीज का तेल या फिर धनिया के बीज का पाउडर को नारियल के तेल में मिलाकर जोड़ों पर मालिश करने से आराम मिलता है। घटिया की समस्या में भी इसका उपयोग किया जाता है। धनिया के बीज का पाउडर आप जैतून, नारियल सरसों के तेल में मिलाकर उपयोग कर सकते हैं।
  • धनिया की तासीर ठंडी होती है इसलिए इसका इस्तेमाल एलर्जी खुजली एवं सूजन को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  • धनी के सेवन से पाचन क्रिया स्वस्थ बनी रहती है। हरा धनिया की चटनी या सलाद में इस्तेमाल करने से पेट में गैस की समस्या कम हो सकती है।
  • थायराइड की समस्या हार्मोन के डिसबैलेंस से होती है धनिए के बीज का पाउडर के सेवन से हारमोंस नियंत्रित रहता है।
  • धनिए के बीज से तैयार किया गया पानी या फिर डिटॉक्स वॉटर में धनिया का उपयोग करने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और वजन घटाने में मदद मिलती है।
  • दुनिया के सेवन से स्तनपान कराने वाली महिलाओं के स्तन में दूध की वृद्धि होती है।

धनिया से होने वाले नुकसान

धनिया एक आयुर्वेदिक पौधा है जिस के नुकसान बहुत ही कम देखने को मिलते है। लेकिन यदि आवश्यकता से अधिक इसका सेवन किया जाए तो यह स्किन एलर्जी का रूप ले सकती है।

यह भी पढ़े – कब्ज होने का कारण क्या है, जानें कब्ज के कारण, लक्षण व बचाव

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Follow us on Google News:

Mamta Jain

मैं ममता जैन मीडिया क्षेत्र में मैं तीन साल से जुड़ी हुई हूं। मुझे लिखना काफी पसन्द है और अब मैने यही मेरा प्रोफेशन बना लिया है। मैं जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएट हूं। हेल्थ, स्वास्थ्य, मनोरंजन, सरकारी योजना, क्रिकेट, न्यूज़ और ब्यूटी पर लिखने में मेरा स्पेशलाइजेशन है। हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी जानकारी जानने के लिए मुझे फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *