खसखस के फायदे? ये है खसखस खाने के 7 बड़े फायदे

खसखस के फायदे:- भारत में व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने के लिए कई ऐसे खाद्य पदार्थों का प्रयोग किया जाता है जो चिकित्सा के रूप से हमारे लिए काफी फायदेमंद होते हैं जिसमें से खसखस ही एक ऐसा पदार्थ है जिसके अंदर कई औषधि गुण मौजूद होते हैं। खसखस में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है यह पेट के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

खसखस के फायदे (Khaskhas Ke Fayde)

खसखस के फायदे

यह भी पढ़े – सरसों के तेल के फायदे जानकर आप रह जाएंगे हैरान

खसखस क्या है

खसखस पॉपी नामक पौधे से प्राप्त किया जाने वाला एक खाद्य पदार्थ है खसखस एक तिलहन फसल है। मध्य यूरोपीय देशों में इसको उगाया जाता है कई प्रकार के खास व्यंजनों में खसखस का प्रयोग किया जाता है इस वजह से यूरोपीय देशों में इसकी खेती अधिक मात्रा में की जाती है खसखस के तेल के भी कई गुणगान फायदे हैं।

कितने प्रकार के होते हैं खसखस

यह मुक्ता 3 प्रकार के होते हैं-

  1. नीले खसखस
  2. सफेद खसखस
  3. ओरिएंटल खसखस

खसखस में पाए जाने वाले पोषक तत्व

S.No.पोषक तत्व
1प्रोटीन
2फैट
3कार्बोहाइड्रेट
4फाइबर
5कैल्शियम
6आयरन
7मैग्नीशियम
8जिंक
9फैटी एसिड
10कोलेस्ट्रॉल
11विटामिन-ई

यह भी पढ़े – खाली पेट लहसुन खाने के फायदे? लहसुन में कौन से विटामिन पाए जाते हैं?

पाचन प्रक्रिया को दुरुस्त करता है

खसखस में प्रचुर मात्रा में फाइबर नामक तत्व पाया जाता है जिन लोगों को कब्ज की यह पेट से जुड़ी कोई समस्या है तो यह फाइबर उनके शरीर में जाकर इन सभी समस्याओं को ठीक करने का काम करता है। यदि आप खसखस का सेवन करते हैं तो आपको कॉल कैंसर होने की संभावनाएं कम हो जाती हैं। खसखस के सेवन करने से पेट स्वस्थ हो जाता है।

मुंह के छालों में फायदेमंद

खसखस की तासीर ठंडी होती है और खसखस में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है मुंह के छाले होने का एक प्रमुख कारण पेट में गर्मी होना है। लगातार मसाले और मिर्ची खाने से पेट में गर्मी पैदा हो जाती है जिसके कारण हमारे मुंह में छाले निकल आते हैं छाले निकलने से हमें खाना खाने में और बात करने में बहुत दिक्कत होती है यह साले बड़ी दुखदाई होते हैं खासकर के सेवन करने से आपके पेट की गर्मी शांत होती है और आपको मुंह के छालों की समस्या से छुटकारा मिलता है।

महिलाओं की प्रजनन क्षमता को सुधरता है

शोधकर्ताओं ने एक शोध में बताया है कि पॉपी सीड्स के तेल के प्रयोग से फेलोपियन ट्यूब मंकी फर्टिलाइजर तंत्र को मजबूती मिलती हैं फेलोपियन ट्यूब वह मार्ग है जहां अंडे अंडाशय से गर्भाशय में जाते हैं खसखस में प्रचुर मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है जो इनकी फर्टिलाइजर क्षमता को बढ़ा देते हैं।

हड्डियां को स्वस्थ रखने में मददगार

हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए खसखस का प्रयोग करना चाहिए खसखस में कैल्शियम जिंक और कॉपर जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं यह तत्व हमारी हड्डियों को मजबूत करने और विकास करने में काफी मदद करती हैं।

मस्तिष्क उसको स्वास्थ्य करने

मनुष्य के मस्तिष्क के विकास में खसखस एक अहम रोल निभाता है खसखस में कैल्शियम, आयरन और कॉपर जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो दिमाग की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। यह हमारे मस्तिष्क की याददाश्त को भी मजबूत करता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है

जिनके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो गई है ऐसे लोगों को खसखस का सेवन जरूर करना चाहिए खसखस में जिंक और आयरन प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो मनुष्य की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। कारण शरीर में जाने से ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाते हैं जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है जिंक हमारे शरीर में नई कोशिकाओं का निर्माण करते हैं और क्या है एक अहम भूमिका।

हृदय स्वास्थ्य करने में

मनुष्य के शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को घटाने में मदद करता है खसखस में डाइटरी फाइबर नामक एक तत्व पाया जाता है जो हमारे रक्त को पतला करता है। खसखस में ओमेगा 6 प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो मनुष्य को हृदय रोग से सुरक्षित करने में मदद करता है।

यह भी पढ़े – अमरूद के पत्ते के फायदे? अमरूद के पत्ते के औषधीय गुण क्या है?

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.