खून की कमी दूर करने के उपाय, रक्त की कमी तथा उसके सरल उपचार

खून की कमी दूर करने के उपाय, रक्त की कमी तथा उसके सरल उपचार क्या है। यदि रक्तहीनता की शिकायत हो जाए तो रक्त में लाल कणों की कमी होना तथा शरीर का रंग पीला पड़ना लाजमी है। इसे ही हीमोग्लोबिन कम होना या एच. बी. में कमी आना कहते हैं। रक्त में गुणवत्ता की कमी ही रक्तहीनता का हो जाना है।

खून की कमी दूर करने के उपाय

खून की कमी दूर करने के उपाय

यह भी पढ़े – कैंसर रोग से बचाव के ये है 11 उपाय तथा उसका इलाज

क्यों होती है खून की कमी?

  1. लम्बी बीमारी से उठना,
  2. प्रसव के समय अधिक रक्त बह जाना,
  3. मासिक धर्म सामान्य से अधिक होना,
  4. दुर्घटना, चोट में रक्त का बह जाना,
  5. ऑप्रेशन के समय अधिक रक्त निकल जाना,
  6. पोषक तत्वों की कमी वाला भोजन लगातार करना,
  7. असंतुलित आहार,
  8. नया रक्त सही मात्रा में न बनना आदि अनेक कारण हो सकते हैं।

रक्त की कमी पूरी करने के साधन

  • यदि यह कमी किसी लम्बी बीमारी के कारण हुई है तो धीरे-धीरे पूरी भी होती जाएगी। भोजन ही इस कार्य को पूरा कर देगा।
  • चिकनाईयुक्त पदार्थ पूरी तरह त्याग दें। इन्हें पचाने के लिए शरीर को बहुत परिश्रम करना पड़ता है। मगर शरीर में इतनी क्षमता होती नहीं। पाचन प्रक्रिया इस योग्य नहीं होती।
  • अंगूर का सेवन तथा अंगूर का रस इस कमी को पूरा कर सकते हैं।
  • गाजर इस कमी को पूरा कर देती है। गाजर का रस पीना और भी अच्छा।
  • चुकन्दर भी रक्त में वृद्धि करता है। चुकन्दर का रस पीना बेहतर है।
  • यदि गाजर तथा चुकन्दर का समान मात्रा में रस लें तो बहुत अच्छा। पीलापन दूर होगा। रक्त में लाल कण बढ़ते रहेंगे। शरीर पुष्ट होगा ।
  • खुमानी का सेवन लाल कणों में अच्छी वृद्धि कर सकता है क्योंकि इसमें विटामिन ए, लौह तत्व और पोटाशियम रहता है।
  • शरीर में लौह तत्व की उचित मात्रा जानी ही चाहिए। यदि कमी हो भी जाए और प्राकृतिक रूप से पूरी न हो तो गोलियां भी ले सकते हैं।
  • आलूबुखारा, आडू तथा दाख का सेवन करने की सलाह दी जाती है।
  • काजू का सेवन भी रक्त में वृद्धि कर, हीमोग्लोबिन बढ़ाता है। चूंकि काजू में थायमीन, लौह तत्व तथा विटामिन बी आदि होते हैं, इसलिए कमज़ोर व्यक्तियों को इसका सेवन करना चाहिए।
  • लाल कणों को रक्त में बढ़ाने के लिए टमाटर का सेवन, टमाटर का सूप, टमाटर का रस तथा हरा सलाद व पालक का रस ज़रूर लें।
  • जिन्हें रक्तहीनता की शिकायत रहती हो वह सोयाबीन का किसी भी रूप में जरूर सेवन करें। इससे सस्ता उपचार और कोई नहीं। सोयाबीन में क्षार, लौह तत्व होते हैं। इसमें लेसिथीन भी है।
  • अधिक से अधिक खुली हवा तथा ताज़ा आक्सीजन लेना बहुत जरूरी है।
  • उपयोगी तथा संतुलित भोजन । मगर महंगे के पीछे न जाएं।

यह भी पढ़े – गर्भावस्था में क्या सावधानी रखनी चाहिए तथा उपचार

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Subscribe with Google News:

Leave a Comment