मुंह और शरीर की बदबू हटाने के उपाय, ये है 22 घरेलु नुस्खे

क्या आप भी मुंह और शरीर की बदबू से परेशान हैं तो यहां पर आपको मुंह और शरीर की बदबू हटाने के उपाय बताए गए हैं जिसका प्रयोग करके आप अपने मुंह और शरीर की बदबू को आसानी से दूर कर सकते हैं। आज के समय में गलत खान-पान और मुंह अच्छी तरीके से साफ नहीं करने से मुंह में काफी दुर्गंध आने लगती है जिसकी वजह से काफी लोग परेशान रहते हैं जिसके लिए काफी पैसा भी खर्च करते हैं।

मुंह और शरीर की बदबू हटाने के उपाय

मुंह की बदबू हटाने के उपाय

शरीर से पसीना आना एक आम बात है परंतु कुछ लोगों के पसीने से काफी बदबू आती है और उसकी दुर्गंध दूसरों को ना आए वे अपने कपड़ों पर परफ्यूम और DO का प्रयोग करते हैं जो कि काफी महंगा पड़ता है। परफ्यूम और OD हमारी स्किन के लिए काफी नुकसानदायक होता है यदि आप के पसीने में दुर्गंध आती है तो उसको कम करने के लिए कुछ घरेलू नुक्से है जिनका प्रयोग करके आप अपने शरीर की दुर्गंध को कम कर सकते हैं।

मुंह की बदबू हटाने के उपाय

  1. कूट और ताल – मखाना का चूर्ण बनाकर रख लें। शहद और घी के साथ मिलाकर खाने से मुखदुर्गन्ध दूर हो जाती है। शहद और घी का अनुपात बराबर न रखें। शहद 2 और घी 1 का अनुपात रहे।
  2. इलायची, कूट, मुलहटी, धनिया और नागरमोथ की बराबर-बराबर मात्रा लेकर इन्हें पीसकर चूर्ण बना लें। एक चुटकी मुंह डालकर चबाने से ही मुंह की दुर्गन्ध दूर हो जाती है।
  3. बिजो नीबू के फल का छिलका यदि मुख में डाल लिया जाए तो वह तुरन्त दुर्गन्ध नष्ट कर देता है।
  4. कूट (कूष्ट), ऐलेय, एला (इलायची), मुलहठी, नागरमोथ, धनिया को चबाने से मुख की दुर्गन्ध दूर होती है।
  5. जायफल, जावित्री, दोना मरूआ, केसर या हींग, कूठ, गन्ध तुलसी, वन तुलसी को पीसकर गोली बनाकर रख लें। इसकी एक गोली मुंह में डाल लेने से मुख दुर्गंध विहीन हो जाता है
  6. दालचीनी, इलायची, जावित्री, स्वर्णमालती को कूट, पीस तथा छानकर छोटी-छोटी गोलियां बना लें। पान के साथ खाने से दिन या रात दोनों ही समय मुख श्वास सुगंधित रहती है।
  7. तालमखाने के बीज और कूठ का चूर्ण, शहद और घी के साथ सेवन करने से मुख से केवड़े जैसी सुगन्ध आती है।
  8. आम और जामुन की गुठली का सार, कर्कट और शहद को से मुख सदा ही सुगन्धित रहता है।

शरीर की बदबू हटाने के उपाय

  1. बेलपत्र, आंवला, हरड़ तीनों को एक साथ पीसकर लेप तैयार करें। इस लेप को शरीर के किसी भी भाग पर लगाने से उस भाग की दुर्गन्ध मिट जाती है। प्रायः इसका उपयोग बगल जैसे ढंके अंगों की दुर्गन्धनाश के लिए किया जाता है।
  2. सफेद चन्दन, कश्मीरी केसर के फूल, पुष्कर की जड़, छोटा लोध, तगर, बालछड़, खस सफेद, काली मिर्च इन सबको समभाग लेकर बारीक पीस लें। इनमें तेल और बेसन मिलाकर उबटन बना लें। इस उबटन को स्नान से पूर्व मलें फिर स्नान करें। इससे शरीर की बुरी से बुरी दुर्गन्ध भी दूर हो जाती है।
  3. लोध की छाल, खस, शिरीष, कमल के गट्टे को महीन पीस लें। इनमें बेसन और तेल मिलाकर मालिश करने से पसीने आदि की बदबू नहीं रहती।
  4. अर्जुन के फूल, जामुन के पत्ते और लोध बराबर-बराबर लेकर अत्यन्त बारीक पीस लें। इस उबटन को लगाने से पसीने की दुर्गन्ध नहीं रहती है।
  5. हरड़, लोध, रीठे के पत्ते, अनार के छिलकों का चूर्ण, इनका उबटन बनाएं और शरीर पर लगाएं। ऐसा करने से शरीर की दुर्गन्ध नष्ट हो जाएगी।
  6. हरड़, सफेद चन्दन, नागरमोथ, खस, लोध, हल्दी से बना उबटन लगाने से पसीने की बदबू लुप्त हो जाती है।
  7. सफेद चन्दन, खस, बेलपत्र, बेर तथा बहेड़े की गिरी, अगर, नागकेशर का लेप तैयार करें। इसका लेप करने से पुरानी से पुरानी दुर्गन्ध भी नष्ट होती है।
  8. इलायची, कपूर, तेजपात, चन्दन, मोश, हरड़, कचूर, कूठ का लेप दुर्गन्धनाशक होता है।
  9. कस्तूरी, केसर, नागरमोथ, भद्रमोथा, कपूर, खस इन सबको बराबर-बराबर लेकर पीस लें। इनके लेपन से शरीर सुवासित होता है।
  10. खस, काला गुरु, सफेद चन्दन को बराबर मात्रा में पानी के साथ पीसकर शरीर पर लेप लगाने से शरीर से चन्दन के समान सुगन्ध आती है।
  11. जावित्री, काकड़ासिंगी, लाल चन्दन, नागरमोथा, सफेद चन्दन, शिलारस, कस्तूरी, नागकेशर, सोनजुही, कपूर को अच्छी तरह कूटकर महीन चूर्ण बना लें। पान या मारुआ (तुलसी के समान एक पौधा) के रस के साथ पीस लें। बाद में इस घोल/लेप को शरीर पर लगाने से अंग-अंग महकने लगता है।
  12. बेल फल, हरड़, आंवला इन तीनों को समान मात्रा में पीसकर इसका लेप कांख में लगाने से वहां की दुर्गन्ध दूर होती है।
  13. अनार सहित अनार की छाल, महुए की छाल, लोध, कमलगट्टे के बराबर की मात्रा में नीम के पत्ते पीसकर देह पर मलने से पसीने की दुर्गन्ध दूर होती है।
  14. नाग केसर, खस, सिरस, लोध को पीसकर कपड़छन कर लें। इस चूर्ण (पाउडर) को शरीर पर लगाने से ग्रीष्म ऋतु में पसीना नहीं आता और अंग-प्रत्यंग सुवासित रहता है।

यह भी पढ़े – मटन खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए, ये 5 चीजों सेहत पर डाल सकती है बुरा असर

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Arjun

मेरा नाम अर्जुन है और मैं CanDefine.com में एडिटर के रूप में कार्य करता हूँ। मैं CanDefine वेबसाइट का SEO एक्सपर्ट हूँ। मुझे इस क्षेत्र में 3 वर्ष का अनुभव है और मुझे हिंदी भाषा में काफी रुचि है। मेरे द्वारा स्वास्थ्य, कंप्यूटर, मनोरंजन, सरकारी योजना, निबंध, जीवनी, क्रिकेट आदि जैसी विभिन्न श्रेणियों पर आर्टिकल लिखता हूँ और आपको आर्टिकल में सारी जानकारी प्रदान करना मेरा उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.