पैन कार्ड में लिखे 10 नंबर का मतलब क्या होता है क्या आप जानते है?

पैन कार्ड में लिखे 10 नंबर का मतलब क्या होता है: पैन कार्ड भारत में एक प्रकार का आईडेंटिटी कार्ड है पैसों का अधिक लेनदेन बैंक के द्वारा किए जाने पर आपसे आपका पैन कार्ड नंबर बैंक के साथ लिंक अवश्य कराना होता है। पैन कार्ड का मतलब “परमानेंट अकाउंट नंबर” होता है कार्ड का कार पहले के समय में टैक्स से संबंधित कार्य में किया जाता था परंतु आज के समय में पैन कार्ड का यूज एक आईडेंटिटी कार्ड के रूप में भी किया जाता है।

पैन कार्ड में लिखे 10 नंबर का मतलब क्या होता है

पैन-कार्ड-में-लिखे-10-नंबर-का-मतलब-क्या-होता-है-क्या-आप-जानते-है

पैन कार्ड को हिंदी में “स्थाई खाता संख्या” कहा जाता है। पैन कार्ड तो लगभग सभी लोग बनवा लेते हैं परंतु उसके ऊपर लिखे 10 नंबर डिजिट उस पर अंकित होते हैं उन 10 अंको में जो भी नंबर डाले जाते हैं वह नंबर बहुत ही खास होते हैं पैन कार्ड तो बनवा लेते हैं परंतु उस पर लिखे 10 अंकों के कोड नंबर का अर्थ क्या होता है यह हमको नहीं पता होता।

पैन कार्ड के ऊपर लिखे 10 नंबर का मतलब

पैन कार्ड में शुरू होने वाले 10 डिजिट में पहले 3 अंक अल्फाबेट के होते हैं जो भी अल्फाबेट के तीन नंबर डाले जाते हैं वह आयकर विभाग निश्चित करता है और जो चौथा अक्षर डाला जाता है वह आयकर दाता के स्टेटस को बताता है पैन कार्ड में जो चौथा डाला जाता है वह भी अंग्रेजी की वर्णमाला से लिया गया होता है।

पैन कार्ड पर अंकित चौथे डिजिट का मतलब

Pएक व्यक्ति
Cकिसी भी कंपनी के लिए
Hकिसी भी अन डिवाइडेड हिंदू फैमिली के लिए (HUF)
Aलोगों के समूह (AOP)
Bव्यक्तियों के निकाय (BOI)
Gसरकारी
Jआर्टिफिशियल ज्यूडिशियल पर्सन
Lलोकल के लिए
Fकिसी भी फॉर्म के लिए
Tकिसी भी ट्रस्ट के लिए

पैन कार्ड पर पांच में अक्षर को भी अंग्रेजी के वर्णमाला से लिया जाता है यह धारक के सरनेम कहां पहला अक्षर होता है इन पांच अल्फाबेट के बाद आपको चार नंबर दिखाई देंगे क्योंकि न्यूमैरिक अंक होते हैं यह अंक 0001 से शुरू होकर 9999 10 इसमें से कोई भी नंबर हो सकते हैं।

जो भी आपको आपके पैन कार्ड पर नंबर सीरीज डली हुई मिलती है वह आयकर विभाग में चल रही नंबरिंग के हिसाब से दी जाते हैं और लास्ट में एक अंग्रेजी वर्णमाला का अल्फाबेट होता है जो कि एक चेक डिजिट है।

यह भी पढ़े –

Leave a Comment