पेट में गैस बनने की समस्या यानी अफारा के 14 घरेलू उपाय, चुटकी में दूर करें पेट की गैस

पेट में गैस बनने की समस्या यानी अफारा के 14 घरेलू उपाय, चुटकी में दूर करें पेट की गैस, अपनी ही भूल के कारण, खान-पान में अनियमितता करने के कारण हमारे पेट में बहुत गैस पैदा होने लगती है। यह बनकर निष्कासित होती रहे, तब तक तो तकलीफ नहीं होती। मगर जब यह निकलने का नाम न ले और अफारा बना रहे, तब बड़ी ही कठिनाई होती है। असहज स्थिति से गुजरना पड़ता है। आइए इस रोग से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलू उपचार जानें।

पेट में गैस बनने की समस्या के 14 घरेलू उपाय

पेट में गैस बनने की समस्या के 14 घरेलू उपाय

यह भी पढ़े – दूध से रोगों का उपचार, दूध से करें इन बीमारी का इलाज जाने पूरी जानकारी

पेट में गैस बनने की समस्या का घरेलू उपाय

  1. हवा कम से कम बने, इसलिए आलू, चावल, तले, पदार्थ, मांस, शराब आदि का सेवन न करें।
  2. भूख से अधिक न खाएं। कुछ हिस्सा पेट खाली भी रहे। खाली पेट रहने से भी गैस बनेगी। अतः भूखे मत रहें ।
  3. व्रत रखना एक अच्छा उपचार है। केवल सात दिनों में आधा-पौना दिन।
  4. पुदीना, अनारदाना, प्याज, धनिया आदि की चटनी जरूर लिया करें।
  5. लहसुन, अदरक का भी प्रयोग जरूरी है। किसी प्रकार से करें।
  6. अपनी आदत बना लें कि एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू निचोड़कर प्रातः ही पी लें। उसके बाद शौच आदि जाएं।
  7. जिन्हें कब्ज भी रहता हो और हवा भी काफी बनती हो, वे खाना खाने के बाद काला नमक, जीरा, नींबू मिलाकर खारा सोड़ा पी लें। उसे काफी आराम मिलेगा। अंतड़ियां साफ हो जाएंगी।
  8. आप जहां भी जाएं, वहां के रिवाज का भोजन करें।
  9. जिन्हें पेट में अधिक हवा बनने की तकलीफ रहती हो वे गर्मी के मौसम में तरबूज, खरबूज तथा आम आदि को अधिक मात्रा में न खाएं। इनसे भी हवा बनती है।
  10. भोजन पचेगा, पेट साफ रहेगा तो गैस, हवा कम बनेगी। हरे साग जैसे बथुआ, पालक, सरसों के साग खाएं। खीरा, ककड़ी, गाजर, चुकन्दर इस भी रोग को शांत रखते हैं। कच्चे खाया करें।
  11. नारियल का पानी पीने को प्राप्त हो तो जरूर पी लें। दिन में तीन बार, सारी तकलीफ गायब हो जाएगी।
  12. खाना खाने के बाद आइसक्रीम खाना या ठंडे पेय पीना भी हानि करता है। ऐसे में ठंडा जूस पीना भी ठीक नहीं रहता।
  13. यदि किसी को चाय या कॉफी की आदत हो तो यह भी नुकसान करती है। इस आदत को छोड़ दें।
  14. मैदे से बने पदार्थ या सुपरफाइन आटे की रोटी आसानी से नहीं पचते और वायु पैदा करते हैं। दुर्गन्ध भी। अतः मोटे आटे से, चोकरयुक्त आटे से या चना अथवा सोयाबीन मिले आटे से बनी रोटी खाएं। यह जल्दी पचेगी भी तथा अफारा जैसी तकलीफ नहीं होने देगी।

इस प्रकार यदि हम अपने खान-पान में सुधार कर लें तो यह रोग शांत रहेगा।

यह भी पढ़े – खून को साफ करने का अच्छा उपाय है सुबह की सैर

Subscribe with Google News:

Leave a Comment