Purvanchal Expressway Route : अब लखनऊ से गाजीपुर जाना होगा आसान पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से, जाने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के रूट के बारे में।

Purvanchal Expressway Route : यूपी सरकार ने पूर्वांचल कि लोगों को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे देकर एक नई सौगात दी है। एक्सप्रेसवे की लंबाई 340.8 किलोमीटर है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे लखनऊ से गाजीपुर तक बनाया गया है इस एक्सप्रेसवे का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को करेंगे। यह एक्सप्रेसवे 6 लाइन का एक विशाल एक्सप्रेसवे है जिसमें 2 पहिया वाहन, 4 पहिया वाहन, 6 पहिया वाहन, 10 पहिया वाहन किस साथ-साथ इस एक्सप्रेसवे पर जेट भी उतारे जा सकते हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को बनने में लगभग 42 हजार करोड़ का खर्च आया है। Purvanchal Expressway Route In Hindi. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन कब होग? पूर्वांचल एक्सप्रेसवे कब चालू होगा?

Purvanchal Expressway Route

Purvanchal Expressway Route
Purvanchal Expressway Route

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के लाभ

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के बनने से पूर्वांचल के लोगों को बहुत सारे लाभ मिलने वाले हैं। अब लखनऊ से गाजीपुर तक लगभग 340 किलोमीटर की दूरी अब तय करने में कम समय लगेगा। इस एक्सप्रेसवे पर राज्य स्तर मंडिया बनाई जाएंगी जिससे रोजगार उत्पन्न होंगे। यह एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश राज्य के लगभग 9 जिलों से होकर गुजरेगा जिसमें :-

  • लखनऊ
  • बाराबंकी
  • फैजाबाद
  • अंबेडकर
  • अमेठी
  • सुल्तानपुर
  • आजमगढ़
  • मऊ
  • गाजीपुर

इस पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से 9 राज्य जुड़ने से इन राज्यों में आवागमन आसान हो जाएगा और यात्रा करने में भी कम समय लगेगा।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे 3 किलोमीटर लंबा रनवे

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बनाने में उत्तर प्रदेश सरकार ने कई चीजों का ध्यान रखा है। इस एक्सप्रेसवे को बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने उच्च तकनीकों का प्रयोग किया है जिससे इस पर जेट प्लेन तक उतारे जा सकते हैं। इस एक्सप्रेसवे पर 3 किलोमीटर लंबा रनवे सुल्तानपुर जिले में बनाया गया है इस रनवे पर लड़ाकू विमान आसानी से उतारे जा सकते हैं।

यह भी पढ़े – Bihar Berojgari Bhatta Yojana Apply Online : बिहार सरकार बेरोजगारों को देगी हर महीने 1000 रुपये का भत्ता, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर टोल

लखनऊ से गाजीपुर तक के एक्सप्रेसवे को निजी कंपनियों के द्वारा बनाया गया है जब यह एक्सप्रेसवे प्रारंभ होगा तब कुछ दिन तक इस पर कोई भी टोल टैक्स नहीं लिया जाएगा परंतु कुछ समय पश्चात निजी कंपनियों द्वारा टोल टैक्स वसूला चाहेगा इस एक्सप्रेसवे के बनने से लखनऊ से गाजीपुर तक का सफर में लगभग 4 घंटे की कमी आएगी। इस एक्सप्रेसवे पर लगभग 11 टोल टैक्स बनाए गए हैं।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर गाड़ी की स्पीड

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने निजी कंपनियों द्वारा निर्मित इस एक्सप्रेसवे पर आधुनिक टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया है जिसकी वजह से इस एक्सप्रेसवे पर आप गाड़ियों को अच्छी रफ्तार में चला सकते हैं। इस एक्सप्रेसवे के बनने से अब गाड़ियां फर्राटे से दौड़ एंगे और उनकी स्पीड में भी बढ़ोतरी आएगी। प्रेस पेपर गाड़ियों की रफ्तार 100 किलोमीटर प्रति घंटे तक रह सकती हैं।

यह भी पढ़े – Pradhan Mantri Awas Yojana Apply Online : 2.67 लाख तक की छूट देगी सरकार घर खरीदने में, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से रोज कितनी गाड़ियां गुजरेगी

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इस एक्सप्रेसवे पर अनुमान लगाया गया है कि रोज 15 से 20000 वाहन गुजरेंगे। इस एक्सप्रेसवे पर स्पीड अधिक होने की वजह से इस एक्सप्रेसवे पर दोनों तरफ फेंसिंग लगाई गई है जिस वजह से इसमें पशुओं का आवागमन आसानी से ना हो सके और वाहन सुरक्षित चल सके। इस एक्सप्रेसवे पर पेट्रोलिंग और एंबुलेंस की सुविधा भी मौजूद रहेगी।

यह भी पढ़े – Pm Wani Free Wifi Yojana Registration : अब गांव-गांव में फ्री मिलेगा इंटरनेट, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन!

Leave a Reply

Your email address will not be published.