RTPCR Ka Pura Name Kya Hai? RTPCR क्या होता है जाने इसके बारे में।

RTPCR Ka Pura Name Kya Hai:- RTPCR Ka Pura Name रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलीमर्स चेन रिएक्शन (Reverse Transcription Polymerase Chain Reaction) है। कोरोना वायरस से पूरा विश्व जूझ रहा है। भारत में यह वायरस बहुत तेजी से फैलता जा रहा है। यदि आप में कोरोना वायरस के लक्षण नजर आते हैं। तो आपको टेस्ट कराना होता है।

या तो आप रैपिड टेस्ट करा सकते हैं। या तो rt-pcr टेस्ट करा सकते हैं। rt-pcr टेस्ट कराने के लिए आपसे सैंपल लिया जाता है। और सैंपल लेने के बाद लगभग 6 से 8 घंटे का समय लग जाता है रिपोर्ट आने में यह दोनों रिपोर्टों को 100% सही नहीं ठहराया जा सकता परंतु यह रिपोर्ट विश्वसनीय होती है।

जाने इस पोस्ट में क्या है

RTPCR Ka Pura Name Kya Hai

RTPCR-Ka-Pura-Name-Kya-Hai

RT-PCR टेस्ट क्या होता है

कोरोना वायरस से आप जब ग्रसित हो जाते हैं। तब यह टेस्ट कराया जाता है। यह टेस्ट कराने के लिए आपको सेंटर पर जाकर या हॉस्पिटल पर जाकर RT-PCR टेस्ट कराना होता है। आरटी पीसीआर टेस्ट कराने के लिए डॉक्टर्स को सैंपल लेना होता है। सैंपल लेने के बाद आपके सैंपल की जांच प्रयोगशाला में होती है। इस टेस्ट से यह पता लगाया जाता है।

कि जिस व्यक्ति का सैंपल लिया गया है। उसको कोरोनावायरस है या नहीं। इसमें कोरोना वायरस की RNA की जांच होती है। जो सैंपल लिए जाते हैं। वह आपकी नाक या गले के और गंज के अंदर एक पतली सी स्ट्रिप डालकर निकाला जाता है। इससे जो रिपोर्ट आती है। वह विश्वसनीय होती है। परंतु यह 100% सही नहीं मानी जा सकती । इस रिपोर्ट की जांच थोड़ी महंगी होती हैं।

इस रिपोर्ट के अनुसार यदि आपमें कोरोना वायरस पाया जाता हैं। तब आपको होम क्वॉरेंटाइन या फिर हॉस्पिटल में रखा जाता है। और जब तक आपकी नेगेटिव रिपोर्ट ना आ जाए तब तक आपको क्वॉरेंटाइन रहना होता है।

यह भी पढ़े – HDFC Bank Full Form in Hindi? एचडीएफसी बैंक की स्थापना कब हुई।

Subscribe with Google News:

Leave a Comment