सरसों के तेल के फायदे जानकर आप रह जाएंगे हैरान

सरसों के तेल के फायदे( Mustard Oil Benefits ) :- सरसों का तेल आमतौर पर सभी घरों में इस्तेमाल किया जाता है परंतु क्या आप इसके गुणकारी फायदे के बारे में जानते हैं आयुर्वेद में सरसों के तेल का प्रयोग कई प्रकार की बीमारियों मैं किया जाता है। सरसों का तेल सरसों के पौधे के बीज से पिरो कर निकाला जाता है यह देखने में पीला होता है और इस तेल की तासीर गर्म होती है इस वजह से इस तेल का प्रयोग सौंदर्य के लिए भी किया जाता है।

सरसों के तेल के फायदे ( Sarso Ke Tel Ke Fayde)

सरसों के तेल के फायदे

यह भी पढ़े – खाली पेट लहसुन खाने के फायदे? लहसुन में कौन से विटामिन पाए जाते हैं?

सरसों के तेल के फायदे

आमतौर पर हम सभी अपने घरों में सरसों के तेल का प्रयोग सिर्फ खाने में इस्तेमाल करते हैं परंतु आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि आयुर्वेद में इसको औषधि के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। सर्दी-जुखाम, जोड़ों में दर्द, सौंदर्य आदि में इसका प्रयोग किया जाता है।

दर्द निवारक के रूप में

सरसों की तेल की तासीर गर्म होती है आयुर्वेद में इसका प्रयोग घुटनों के दर्द तथा शरीर में अन्य जगह दर्द में प्रयोग किया जाता है दर्द वाली जगह पर सरसों के तेल को गर्म करके लगाने से दर्द वाली जगह पर राहत मिलते हैं।

त्वचा के लिए लाभदायक

सरसों के तेल का प्रयोग त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद माना गया है सरसों के तेल में प्रचुर मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है। सरसों के तेल की सेवन से हमारी त्वचा को अंदरूनी पोषण मिलता है और सरसों का तेल त्वचा पर लगाने से उसको बाहरी पोषण मिलता है और नमी बनी रहती है।

भूख ना लगने की समस्या से मददगार

यदि आप भूख ना लगने की समस्या से परेशान हैं तो आपको सरसों के तेल का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए क्योंकि सरसों कातिल हमारे शरीर के अंदर जाने पर यह ऐपेटाइज के रूप में कार्य करने लगता है जिससे मनुष्य की भूख बढ़ने लगती है।

वजन कम करने में मददगार

सरसों में कई प्रकार के विटामिन पाए जाते हैं जिसमें थियामाइन, फोलेट और नियासिन हमारे शरीर में मोटा पोलूशन को बढ़ाते हैं जो हमारे शरीर के वजन को घटाने में मदद करते हैं।

अस्थमा में मददगार

सरसों के तेल में मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। यदि आप अस्थमा से पीड़ित हैं तो आपको सरसों के तेल का सेवन करना चाहिए सरसों का तेल अस्थमा के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

कैंसर के खतरे से बचाओ

यदि आप सरसों के तेल का सेवन लगातार करते हैं तो आपके शरीर में कैंसर जैसी घातक बीमारी के होने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। सरसों के तेल में ग्लूकोसीनोलेट नामक तत्व पाया जाता है जो हमारे शरीर में कैंसर के खतरे को कम करता है।

यह भी पढ़े – अमरूद के पत्ते के फायदे? अमरूद के पत्ते के औषधीय गुण क्या है?

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.