विद्यालय के छात्रों के साथ समाज सेवार्थ जाने के लिए अनुमति माँगते हुए पिता को पत्र

विद्यालय के छात्रों के साथ समाज सेवार्थ जाने के लिए अनुमति माँगते हुए पिता को पत्र (school ke baccho ke sath samaj sevarth jane ke liye anumati mangte hue pita ko patra likhiye)

विद्यालय के छात्रों के साथ समाज सेवार्थ जाने के लिए अनुमति माँगते हुए पिता को पत्र (school ke baccho ke sath samaj sevarth jane ke liye anumati mangte hue pita ko patra likhiye)

विद्यालय के छात्रों के साथ समाज सेवार्थ जाने के लिए अनुमति माँगते हुए पिता को पत्र

यह भी पढ़े – अपने मित्र को परीक्षा में असफल होने पर सांत्वना पत्र लिखिए?

विद्यालय छात्रावास।
दिल्ली।
दिनाँक : 11 मार्च, 20XX

श्री पूज्य पिताजी,
सादर प्रणाम।

मैं यहाँ पर कुशल हूँ। आपको भी सर्व प्रकार से कुशल और प्रसन्न चाहता हूँ। पूज्य चरण, आपने समाचार पत्रों में पढ़ा ही होगा कि आजकल यमुना नदी में भयंकर बाढ़ आई हुई है। बाढ़ के कारण पचासों गाँव जलमग्न हो गये हैं तथा अनेक मनुष्य और पशु बाढ़ में घिरकर नष्ट हो गए हैं। इस प्रलयंकर बाढ़ के कारण गाँव के लोग कुछ तो बचकर बाहर आ गए हैं, पर कुछ पक्के घरों की छातों पर या कुछ ऊँचे पेड़ों पर शरण लिए हुए हैं, उनकी स्थिति प्रति दिन बिगड़ती जा रही है।

इन बाढ़ पीड़ितों की सेवा के लिए शिक्षा विभाग की ओर से नरेला में शिविर लगा हुआ है। हमारे विद्यालय के पाँच अध्यापकों की देख-रेख में बीस छात्र सेवा के लिए वहाँ जाने वाले हैं। मेरा भी नाम उनमें है। मेरी स्वयं की इच्छा भी बाढ़ पीड़ित लोगों की सेवा करने की है।

अतः आपसे अनुरोध है कि आप मानवता की सेवा के इस पुण्यकार्य के लिए मुझे वहाँ जाने की तुरन्त ही अनुमति देकर कृतार्थ करें।

पूज्य माता जी को प्रणाम और बीणा को प्यार।

आपका प्रिय पुत्र
कमलेश

यह भी पढ़े –

Follow us on Google News:

Kamlesh Kumar

मेरा नाम कमलेश कुमार है। मैं मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (Master in Computer Application) में स्नातकोत्तर हूं और CanDefine.com में एडिटर के रूप में कार्य करता हूँ। मुझे इस क्षेत्र में 3 वर्ष का अनुभव है और मुझे हिंदी भाषा में काफी रुचि है। मेरे द्वारा स्वास्थ्य, कंप्यूटर, मनोरंजन, सरकारी योजना, निबंध, जीवनी, क्रिकेट आदि जैसी विभिन्न श्रेणियों पर आर्टिकल लिखता हूँ और आपको आर्टिकल में सारी जानकारी प्रदान करना मेरा उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *