स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है? ऑनलाइन आवेदन कैसे करें।

स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है :- देश के युवाओं को स्वरोजगार हेतु प्रोत्साहन तथा नवउद्यमों की स्थापना के माध्यम से युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान कराने हेतु 16 जनवरी, 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्टार्ट-अप इंडिया (Start Up India Yojana Kya Hai) अभियान का शुभारंभ किया गया। यह अभियान औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग’ (DIPP) द्वारा संचालित किया जा रहा है, जिसमें मानव संसाधन विकास मंत्रालय तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भी भागीदार है। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों हेतु ‘स्टार्ट-अप इंडिया अभियान’ का नाम दीन दयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना’ रखा गया है।

स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है (Start Up India Yojana Kya Hai)

स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है
Start Up India Yojana Kya Hai

स्टार्ट अप योजना

निःसंदेह स्टार्ट-अप योजना का उद्देश्य तथा कार्य-योजनाएं भारत को वैश्विक स्तर पर एक स्टार्ट-अप हब के रूप में स्थापित करने की क्षमता रखती हैं। भारत आज स्टार्ट-अप की संख्या के आधार पर वैश्विक स्तर पर तीसरा बड़ा देश हो गया है। आशा है कि सरकार के सहयोग से निश्चित ही कई नए उद्यमियों को स्टार्ट-अप हेतु प्रोत्साहन मिलेगा, जो अपने अभिनव विचारों को कार्य के रूप में परिणित करके देश में रोजगार के नए-नए अवसर पैदा करने में सक्षम होंगे।

यह भी पढ़े – दीनदयाल अंत्योदय योजना 2022, ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

पेटेंट रजिस्ट्रेशन शुल्क में भारी छूट तथा अटल नवाचार मिशन से नए उद्यमियों में अभिनव विचारों के निष्पादन को प्रोत्साहन मिलेगा। बौद्धिक संपदा अधिकार की सुरक्षा सुनिश्चित होने से इनको नवप्रवर्तन की अभिप्रेरणा प्राप्त होगी। अब आवश्यकता इस बात की है कि सरकार इन स्टार्ट-अप में ऐसे अवसर उपलब्ध करवाए ताकि, ये विश्व स्तर पर अपनी पहचान बनाने में सक्षम हों। निश्चय ही इस योजना की सफलता भारतीय युवाओं को रोजगार साधक से रोजगार प्रदाता के रूप में स्थापित करते हुए भारत को धीरे-धीरे एक बेहतर अर्थव्यवस्था तथा एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में स्थापित कर देगी।

स्टार्ट अप योजना का उद्देश्य

  1. नवोन्मेष को बढ़ावा देना तथा कारोबार की शुरुआत हेतु सहायक वातावरण का सृजन करना ताकि, संतुलित आर्थिक विकास को बढ़ावा देकर बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर पैदा किए जा सकें।
  2. राज्य की भूमिका को नीतिगत स्तर पर ही सीमित रखते हुए लाइसेंस राज को खत्म करने तथा भूमि स्वीकृति, विदेशी निवेश प्रस्ताव, पर्यावरणीय अनापत्तियों आदि जैसी बाधाओं से मुक्ति प्रदान करना।

स्टार्ट अप योजना का लक्ष्य

इस योजना के दो प्रमुख लक्ष्य हैं-

  1. स्टार्ट-अप का डिजिटल/तकनीकी क्षेत्र से आगे बढ़कर वृहद क्षेत्रों जैसे कृषि, विनिर्माण, सामाजिक क्षेत्र, स्वास्थ्य, शिक्षा – आदि तक विस्तार।
  2. वर्तमान के टियर -1 से टियर -2 तथा टियर -3 शहरों की ओर फोकस, जिसमें उप-शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र भी शामिल हैं।

स्टार्ट अप हेतु मापदंड

  1. कंपनी का गठन अथवा पंजीकरण भारत में हो।
  2. संस्था का पंजीकरण / निगमीकरण 5 वर्ष से पूर्व न हुआ हो।
  3. किसी वित्तीय वर्ष में कंपनी का वार्षिक कारोबार (टर्न ओवर) 25 करोड़ रुपये से अधिक न हो।
  4. वह कंपनी प्रौद्योगिकी या बौद्धिक संपदा आधारित नए उत्पादों, प्रक्रियाओं अथवा सेवाओं के नवप्रवर्तन, विकास, अनुप्रयोग या वाणिज्यीकरण के संबंध में कार्य कर रही हो।

पहले से ही अस्तित्व वाले किसी व्यवसाय के विभाजन या उसके पुनर्निर्माण के माध्यम से बनाई गई किसी संस्था को स्टार्ट-अप नहीं माना जाएगा।

स्टार्ट अप योजना के कार्य

स्टार्ट-अप इंडिया हेतु सरकार ने निम्नलिखित कार्य-योजनाएं बनाई हैं –

  1. कंपनियों का ई-पंजीकरण ।
  2. स्व-प्रमाणन प्रणाली की शुरुआत।
  3. एक समर्पित वेब पोर्टल के माध्यम से सहयोग का विकास।
  4. प्रथम तीन वर्षों में निरीक्षण कार्य से मुक्ति।
  5. स्टार्ट-अप पेटेंट के लिए शुल्क में 80% तक छूट।
  6. आसान निकास नीति।
  7. प्रथम तीन वर्षों तक आयकर में छूट।
  8. महिला अभ्यर्थियों हेतु विशेष व्यवस्था।
  9. अटल नवाचार मिशन के तहत 5 लाख स्कूलों में 10 लाख छात्रों पर फोकस करके अभिनव पाठ्यक्रमों की शुरुआत।
  10. स्टार्ट-अप इंडिया हब का निर्माण।
  11. स्टार्ट-अप की जरूरतों को पूरा करने हेतु 10000 करोड़ रुपये के ‘फंड ऑफ फंड्स’ की स्थापना।

स्टार्टअप इंडिया योजना ऑनलाइन आवेदन

स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा और इस होम पेज पर आपको User Icon दिखाई देगा।
स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है
  • इस आइकन पर क्लिक करने पर आपको Register और Login दोनों विकल्प दिखाई देंगे यदि आप New User हैं तो आपको रजिस्टर करना है।
स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है
  • आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपका Name, Email Id, Mobile Number और Password बनाने के बाद Create Your Startup India Account बटन पर क्लिक करना है।
स्टार्टअप इंडिया योजना क्या है
  • इस प्रकार आप का रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी।
  • आपको इस पोर्टल पर दोबारा Login करने के लिए अपना User ID और Password डालकर लॉगिन करें।

FAQ

Q1 : स्टार्टअप इंडिया की शुरुआत कब हुई?

Ans : स्टार्टअप इंडिया की शुरुआत 16 जनवरी, 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरु हुई।

Q2 : स्टार्टअप इंडिया टोल फ्री नंबर क्या है।

Ans : स्टार्टअप इंडिया टोल फ्री नंबर 1800 115 565 है।

Q3 : स्टार्टअप इंडिया Email Id क्या है।

Ans : स्टार्टअप इंडिया Email [email protected] है।

यह भी पढ़े – जन धन अकाउंट बैलेंस कैसे चेक करें? मोबाइल से कैसे करे बैलेंस चेक।

Leave a Reply

Your email address will not be published.