टमाटर के उपयोग और गुण, रक्त की कमी पूरी करता है टमाटर

टमाटर के उपयोग और गुण:- टमाटर को लाल सेब के नाम से भी पुकारा जाने लगा है। टमाटर (Tomato Uses in Hindi) भी उसी प्रकार गुणकारी है जैसे कि सेब। टमाटर तथा टमाटर गोल-ये मुख्यतः दो श्रेणियां हैं टमाटर की। गोल टमाटर को ज्यादा पसंद किया जाता है। इसमें रस की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। अतः इसमें पौष्टिकता भी अधिक होगी ही यह दूसरे टमाटर से महंगा तथा वजनदार होता है आइए, टमाटर के उपयोगों, गुणों को जानें यह औषधि रूप में भी कई रोगों को ठीक करने में काम आता है।

टमाटर के उपयोग और गुण

टमाटर के उपयोग और गुण
Tomato Uses in Hindi

यह भी पढ़े – गाजर है गुणों का भंडार जाने गाजर के 24 गुण के बारे में और उसके प्रयोग

यदि एक पका हुआ टमाटर प्रतिदिन खा लिया जाए और इसमें कभी नागा न आने दें तो पचासों रोग तो आक्रमण करने में सफल नहीं हो पाते या फिर शरीर को कोई हानि नहीं कर सकते। टमाटर में अवरोधक शक्ति बहुत होती है, जो रोग को नजदीक नहीं फटकने देती। पका हुआ टमाटर कच्ची अवस्था में खाने से अधिक लाभ होता है।

टमाटर के उपयोग और गुण

  1. जिसे रक्त की कमी हो। निर्बल हो। उसे टमाटर, टमाटर का रस या टमाटर का प्रतिदिन सूप पिलाने से बहुत लाभ होता है। नया रक्त बनता है। कमजोरी दूर होती है।
  2. टमाटर एक सस्ता फल है जो हर आदमी की पहुंच के अन्दर है।
  3. टमाटर की सब्जी, सूप, सलाद, जैम, सॉस, घरेलू चटनी जैसी अनेक वस्तुएं बनाई जाती हैं। सभी शरीर के लिए उत्तम होती हैं तथा उत्तम ताकत देती है।
  4. कोई भी सब्जी, मीट आदि बनाना हो तो टमाटर की जरूरत पड़ती है। तुड़का भी टमाटर के बिना स्वाद नहीं देता।
  5. टमाटर हमारे भोजन को रुचिकर बनाने में काम आता है। भोजन करने को मन करता है।
  6. टमाटर में कार्बोहाइड्रेटस की मात्रा 4.5 प्रतिशत होती है जबकि पानी 63 प्रतिशत।
  7. टमाटर में खनिज पदार्थ सबसे कम 0.7 प्रतिशत होते हैं।
  8. प्रोटीन की मात्रा 1.6 प्रतिशत जब कि वसा भी कार्बोहाइड्रेटस के समान कोई 4.5 प्रतिशत ही होती है।
  9. फास्फोरस, लोह, साइट्रिक एसिड भी टमाटर में उपलब्ध रहते हैं। इसीलिए यह अधिक लाभदायक होता है।
  10. विटामिन ए, बी, सी भी टमाटर से प्राप्त होते हैं।
  11. टमाटर में पोटाशियम की मात्रा भी काफी होती है।
  12. टमाटर में खनिज लवण केले के समान बराबर मात्रा में होते हैं।
  13. टमाटर और तो सब कुछ है ही साथ ही औषधि भी है। अनेक रोगों छुटकारा पाने के लिए टमाटर खाने की सलाह दी जाती है। यदि टमाटर से नियमित खाते रहें तो कई रोग मुंह मोड़कर चले जाएंगे।
  14. अजीर्ण हो या मधुमेह। टमाटर से इनका इलाज संभव है।
  15. यदि किसी को चर्मरोग ने घेर लिया हो या नेत्र रोग से परेशानी हो, तो टमाटर से इलाज सम्भव है।
  16. मुंह आता हो या ज्वर तंग कर रहा हो तो टमाटर है इसका इलाज।
  17. यक्ष्मा जैसी बीमारी में भी वैद्य टमाटर को खाने की सलाह देते हैं।

टमाटर को बिना पकाए खाने से, इसका नियमित सेवन करने से, इसे भोजन का अंग बनाने से पाचन शक्ति बढ़ेगी खून की कमी पूरी होगी, भोजन में रुदि बनेगी तथा शरीर की दुर्बलता दूर होगी। अनेक रोग स्वतः खत्म हो जाएंगे।

चेहरे का निखार

टमाटर शरीर में शक्ति, रक्त को शुद्ध करने, नया रक्त बनाने जैसे अनेक कामों में प्रयोग किया जाता है। इसे चेहरे की सुन्दरता निखारने के लिए भी आसानी से प्रयोग में लाया जा सकता है, जिसके लिए अलग से कोई खर्च नहीं। कोई अधिक समय भी नहीं चाहिए। बस मिनटों में आप यह कार्य कर सकते/सकती हैं।

  1. घर में टमाटर हैं। दही है। थोड़ा टमाटर का रस लें। इसमें लगभग इतनी ही मात्रा में दही डाल लें। एक-एक चम्मच से काम चल सकता है। इसे चेहरे पर लगा लें। थोड़ा सूखने दें। फिर इसे साफ के पानी से धो दें। जब भी मीका लगे, इस विधि को अपना लें। आपका चेहर सुन्दर होता जाएगा।
  2. जब आप सलाद, सब्जी काट रही हों। थोड़ा खीरे का रस लें। इसमें नींबू की दो-चार बूंदें डालें एक चम्मच टमाटर का रस भी मिला दें। इन्हें चेहरे पर लगाएं। कुछ देर सूखने दें ताजा पानी से धो डालें। कुछ लोग इस बनाए गए रस में नीम के रस की दो-तीन बूंदें मिलाने की सलाह देते हैं। पर यह झंझट नहीं हो सकता तो न सही।
  3. जब आप तड़के के लिए या सलाद के लिए टमाटर काटें तो हाथों पर कुछ रस लग जाता है। इसे धोने की बजाय, या कपड़े से पोंछने की बजाय अपनी गर्दन या चेहरे पर लगा लें। यह शीघ्र सूख जाएगा। दो-चार छींटें पानी के डालकर उतार दें। चेहरे को अवश्य लाभ होगा।

चूंकि टमाटर के बिना हमारा गुजारा नहीं हो सकता, इसीलिए इसकी मांग दिनोंदिन बढ़ रही है तथा इसकी खेती अधिक-से-अधिक हो रही है।

यह भी पढ़े – फेस पैक कैसे बनाये घर पर ये है आसान तरीके, घरेलू उबटन से सौंदर्य बढ़ता है

अस्वीकरण – यहां पर दी गई जानकारी एक सामान्य जानकारी है। यहां पर दी गई जानकारी से चिकित्सा कि राय बिल्कुल नहीं दी जाती। यदि आपको कोई भी बीमारी या समस्या है तो आपको डॉक्टर या विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए। Candefine.com के द्वारा दी गई जानकारी किसी भी जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Follow us on Google News:

Mamta Jain

मैं ममता जैन मीडिया क्षेत्र में मैं तीन साल से जुड़ी हुई हूं। मुझे लिखना काफी पसन्द है और अब मैने यही मेरा प्रोफेशन बना लिया है। मैं जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएट हूं। हेल्थ, स्वास्थ्य, मनोरंजन, सरकारी योजना, क्रिकेट, न्यूज़ और ब्यूटी पर लिखने में मेरा स्पेशलाइजेशन है। हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी जानकारी जानने के लिए मुझे फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *