यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला क्या है जाने इसके बारे में?

यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला क्या है, यूपी बोर्ड 10th क्लास पास करने का रूल क्या है, यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का क्राइटेरिया, Up बोर्ड 10वी की परीक्षा रद्द 2021, Up बोर्ड 10वी की परीक्षा रद्द करने का कारण, यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का रूल क्या है। कोरोना महामारी के चलते हुए यूपी बोर्ड 10वी क्लास के एग्जाम डेट्स बढ़ाती जा रही थी।

यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला क्या है (UP Board 10th Class Pass Karne Ka Rule Kya Hai)

यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला क्या है (UP Board 10th Class Pass Karne Ka Rule Kya Hai)

10वी क्लास में पढ़ रहे छात्र एग्जाम की डेट का इंतजार कर रहे थे। ऐसे में बोर्ड ने कल शनिवार को एक मीटिंग होने के बाद यह डिसीजन लिया की यूपी बोर्ड 10वी क्लास की परीक्षा रद्द कर दी गई है। और अब यूपी बोर्ड ने 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला भी बता दिया है।

यूपी बोर्ड में 10वीं क्लास पास करने के लिए छात्रों को लिखित परीक्छा 70 अंको की और 30 अंको का आतंरिक मूल्यांकन अंक दिये जाते है इन दोनों को मिलाकर 100 अंक दिए जाते है। यूपी बोर्ड 10th क्लास पास करने का रूल बनाया गया है जो की इस प्रकार है।

50% अंक50% अंक30 अंक
9वीं कक्षा के छात्रों को वार्षिक लिखित परीक्छा के 70 अंको में से प्राप्त अंक का 50% नंबर दिए जायेंगे।10वीं कक्षा के छात्रों को प्री-बोर्ड लिखित परीक्छा के 70 अंको में से प्राप्त अंक का 50% नंबर दिए जायेंगे।10वीं कक्षा के छात्रों को वर्ष २०२१ में स्कूल के द्वारा दिए गए आतंरिक मूल्यांकन अंक

100 सालो में ऐसा पेहली बार हुआ है की उप बोर्ड ने परीक्षा रद्द की है। हालांकि अब यूपी बोर्ड के पास एक बड़ी समस्या खड़ी हो गई है। छात्र और उनके अभिभावकों के मन में अब यह प्रश्न उठ रहा होगा की यूपी बोर्ड 10वीं में पढ़ रहे छात्रों को पास कैसे किया जाएगा।

यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का क्या क्राइटेरिया है। या फिर यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का क्या रूल बनेगा। इससे पहले बोर्ड ने यह निर्णय लिया था कि जो छात्र यूपी बोर्ड की 10वीं कक्षा में है उनको दसवीं कक्षा की अर्धवार्षिक परीक्षा के आधार पर उनको पास कर दिया जाएगा।

परंतु कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार यह बताया गया की यूपी बोर्ड 10वी क्लास की अर्धवार्षिक परीक्षा बहुत से स्कूलों ने नहीं करवाई थी और बहुत से छात्र ऐसे भी हैं जिन्होंने अर्धवार्षिक परीक्षा नहीं दी थी इसका एक बड़ा कारण यह है क्योंकि यूपी बोर्ड की दसवीं कक्षा की अर्धवार्षिक परीक्षा के एग्जाम के नंबर ना तो बोर्ड को आवश्यकता पड़ती है।

और ना ही बोर्ड को भेजे जाते हैं इस वजह से दसवीं कक्षा में पढ़ रहे छात्र परीक्षा में सही से सम्मिलित नहीं होते हैं। जिस वजह से बोर्ड के सामने आज एक समस्या उत्पन्न हो गई है। इस समस्या का समाधान बोर्ड ने निकाल दिया है।

यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का क्राइटेरिया, यूपी बोर्ड 10वी क्लास पास करने का रूल क्या है

यह भी पढ़े –

Leave a Reply

Your email address will not be published.