ककड़ी के 30 गुण और प्रयोग जानकर रह जायेंगे हैरान, मिलेंगे अचूक फायदे

ककड़ी के 30 गुण और प्रयोग जानकर रह जायेंगे हैरान, मिलेंगे अचूक फायदे। ककड़ी तथा खीरा दोनों सजातीय हैं। गर्मी के फल हैं। शरीर में गर्मी, लू के प्रभाव को खत्म करने के लिए ककड़ी-खीरा जरूर खाने चाहिए। ककड़ी का तासीर सर्द और तर माना गया है। इसकी सब्जी, सलाद तथा कच्चा खाया जाना आम बात है। यदि मेदे में जलन हो तो भी ककड़ी खाई जाती है। प्यास न बुझती हो तो भी ककड़ी खाएं। लाभ होगा। यदि शरीर में तेजाबी दिक्कत लगती हो तो भी ककड़ी खाने से यह अवांछित पदार्थ बाहर निकल जाते हैं।

ककड़ी के 30 गुण और प्रयोग जानकर रह जायेंगे हैरान

ककड़ी के 30 गुण और प्रयोग

यह भी पढ़े – गाजर है गुणों का भंडार जाने गाजर के 24 गुण के बारे में और उसके प्रयोग

ककड़ी के गुण तथा प्रयोग

  1. पुरानी कब्ज से छुटकारा पाने के लिए ककड़ी खाना हितकर है।
  2. यदि गर्मी अधिक है। पसीना खूब आता है। तब तो बर्फ में ठंडी की हुई ककड़ी खाने से ठंडक मिलेगी। पसीने से हुई कमी भी पूरी होगी।
  3. कुछ स्त्रियों के नाखून अक्सर टूट जाते हैं। नेल पालिश में मिले केमिकल इन्हें कमजोर कर देते हैं। ककड़ी के बीच इसका इलाज है। इन्हें खाने से नाखूनों में निखार भी आएगा तथा टूटेंगे भी नहीं ।
  4. जो बात-रोग से पीड़ित हो, उसे ककड़ी का रस पीना चाहिए।
  5. पोटाशियम’ भी ककड़ी में काफी होता है। इसके रस को पीना चाहिए। यह रक्तचाप में फायदा करता है।
  6. गर्मियों में बार-बार प्यास लगने से आदमी परेशान हो जाता है। ककड़ी को छिलका समेत चबाने से प्यास कम लगेगी।
  7. अच्छी व गहरी नींद लेने के लिए ककड़ी की सब्जी खानी चाहिए।
  8. पुरानी और परेशान करने वाली कब्ज से छुटकारा पाने के लिए ककड़ी और टमाटर का रस बराबर मात्रा में पीना चाहिए। लाभ होगा।
  9. बालों को मुलायम व चमकीला करने के लिए इन पर ककड़ी का रस लगाकर धोयें।
  10. बालों में कालापन लाने के लिए घना व करने के लिए इसे खाना भी चाहिए और रस को बालों में लगाना भी चाहिए।
  11. ककड़ी के रस को चेहरे पर मलें। इससे चेहरे के दाग भी जाते रहेंगे। मुंहासे दूर होंगे। रंग भी निखरेगा।
  12. कुछ लोगों को गर्मी के मौसम में पेशाब से जलन होती है। उन्हें ककड़ी का रस, नींबू का रस तथा चीनी मिलाकर पीने से रोग से छुटकारा मिलेगा।
  13. यदि चेहरे पर चिकनाई रहती हो, तो ककड़ी के टुकड़े को धीरे-धीरे अपने चेहरे पर लगाएं। चिकनाई दूर होगी।
  14. भोजन से पहले ही थोड़ी ककड़ी खाने की आदत बनाएं। आंतों के सभी रोग खत्म होंगे।
  15. शराब का नशा उतारने के लिए ककड़ी खानी चाहिए।
  16. ककड़ी में लगभग 70 प्रतिशत पानी तथा 30 प्रतिशत गूदा होता है।
  17. ककड़ी की तरह खीरा भी सर्द तथा तर होता है। अतः पेट की गर्मी, जलन को बाहर निकालने में मदद करता है। गर्मी की तकलीफ से बचाता है।
  18. यदि किसी को कब्ज की शिकायत हो तो वह भी खीरा खाकर अपने पेट को साफ कर सकता है। आंतों की हरकत इससे तेज हो जाती है। अतः पेट भी साफ हो जाता है।
  19. खीरा तथा ककड़ी आसानी से नहीं पचते। इनके छिलके बहुत कठोर होते हैं। अतः इन्हें उतार देना चाहिए। यदि काली मिर्च तथा नमक के साथ इन्हें खाएं तो ये सुपाच्य हो जाते हैं और शीघ्र हजम जो जाते हैं।
  20. यदि कमर में दर्द रहता हो, मसाने तथा गुर्दे की पत्थरी तंग कर रही हो तो ककड़ी इन दिक्कतों से छुटकारा दिला देती है।
  21. यदि गुर्दे में खुश्की तथा गर्मी दोनों हो जाएं तो भी ककड़ी फायदा करती है। अतः ककड़ी जरूर खाएं।
  22. हमेशा ककड़ी नर्म ही खाना चाहिए सख्त ककड़ी को पचाना कठिन हो जाता है। अतः लाभ की जगह नुकसान न झेलें। ताजा व नर्म ककड़ी खाने की सलाह दी जाती है।
  23. बरसात के दिनों में ककड़ी नहीं खानी चाहिए।
  24. प्रातः या रात को ककड़ी मत खाएं। हमेशा दोपहर या तीसरे पहर ककड़ी खाना अच्छी रहती है। पचाने को समय मिल जाता है।
  25. जो लोग ककड़ी खाकर पानी पी लेते हैं, उन्हें हैजे का डर बना रहता है। अतः ककड़ी खाने के बाद पानी कभी न पिया करें।
  26. पेशाब की दिक्कत को दूर करने के लिए ककड़ी के बीज बहुत सहायता करते हैं। इसके बीज पेशाब से होने वाली जलन को भी कम करते हैं।
  27. ककड़ी के बीच पीसकर चेहरे पर लगाते हैं। इससे चेहरे की सुन्दरता बढ़ती है।
  28. हमारे शरीर के खून में, गर्मियों के दिनों में, सफरा की मात्रा बढ़ जाती है। ककड़ी इसके लिए भी उपयोगी फल है।
  29. ककड़ी में पानी अधिक रहता है। इसलिए यह शरीर की गंदगी को पेशाब के रास्ते से निकालने में सफल रहती है। अतः जरूर खाएं।
  30. खीरे का रस और नींबू की दो-तीन बूंदें मिलाकर चेहरे पर लगाने, सूखने पर धोने से चेहरे पर निखार आता है।

खीरा तथा ककड़ी, दोनों अवश्य खाने चाहिए। ये प्यास बुझाते हैं। गर्मी को कम करते हैं। कमजोरी पर काबू पाते हैं। अनेक रोगों से छुटकारा दिलाते हैं। यह एक सस्ता, सुलभ फल है तथा स्वाद में भी उत्तम होता है।

यह भी पढ़े – टमाटर के उपयोग और गुण, रक्त की कमी पूरी करता है टमाटर

Follow us on Google News:

Mamta Jain

मैं ममता जैन मीडिया क्षेत्र में मैं तीन साल से जुड़ी हुई हूं। मुझे लिखना काफी पसन्द है और अब मैने यही मेरा प्रोफेशन बना लिया है। मैं जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएट हूं। हेल्थ, स्वास्थ्य, मनोरंजन, सरकारी योजना, क्रिकेट, न्यूज़ और ब्यूटी पर लिखने में मेरा स्पेशलाइजेशन है। हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी जानकारी जानने के लिए मुझे फॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *