यास तूफान कब आएगा? बंगाल की खाड़ी की ओर से आ रहा एक और तूफान।

यास तूफान कब आएगा (Yaas Toofan Bab Aayega), Yaas Cyclone, बंगाल की खाड़ी की ओर से बड़ रहे यास तूफान के द्वारा पश्चिम बंगाल में 25 मई की शाम तक ज्यादातर इलाकों भारी बारिश होने की संभावना जताई जा रही है।

यास तूफान कब आएगा (Yaas Toofan Bab Aayega)

यास तूफान कब आएगा

मौसम विभाग के अनुसार यास चक्रवाती तूफान बंगाल की खाड़ी से बढ़कर पश्चिम बंगाल और ओडीशा के तटों से 26 मई तक टकराने की आशंका जताई जा रही है। अगले 48 घंटों में मौसम विभाग ने भारी बारिश का अनुमान लगाया है।

पूरा देश कोरोना वायरस से जूझ रहा है और इसी में प्राकृतिक आपदा भी अपना कहर बरसा रही है अभी हाल ही में एक बड़ा चक्रवाती तूफान ताऊ दे आया था जिसने बहुत ज्यादा तबाही मचाई इसमें जान माल कि ज्यादा क्षति हुई।

अब मौसम विभाग ने एक अलर्ट और जारी कर दिया है इस अलर्ट के जारी करते ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार इस तूफान से निपटने के लिए योजना बना रही है कि इस समस्या से कैसे निपटा जाए और ज्यादा जान माल का नुकसान भी ना हो।

इस तूफान के टकराते पश्चिम बंगाल उड़ीसा में भारी बारिश हो सकती हैं। बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान यास के काले बादल मडरा रहे हैं। अचानक से समुद्र की सतह का तापमान इस चक्रवाती तूफान के अनुकूल होता नजर आ रहा है।

इसके चलते मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। मछुआरों को समुद्र में जाने से मना कर दिया गया है। मौसम विभाग ने यह अनुमान लगाया है कि इस तूफान के आने से समुद्र में हलचल होगी जिस कारण समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठेंगी जिसकी ऊंचाई 9 से 14 मीटर हो सकती है और तेज हवाएं चलेंगी जिसकी गति 45 से 65 समुद्री मील होने का अनुमान लगाया है।

यह भी पढ़े –

Follow us on Google News:

Kamlesh Kumar

मेरा नाम कमलेश कुमार है। मैं मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (Master in Computer Application) में स्नातकोत्तर हूं और CanDefine.com में एडिटर के रूप में कार्य करता हूँ। मुझे इस क्षेत्र में 3 वर्ष का अनुभव है और मुझे हिंदी भाषा में काफी रुचि है। मेरे द्वारा स्वास्थ्य, कंप्यूटर, मनोरंजन, सरकारी योजना, निबंध, जीवनी, क्रिकेट आदि जैसी विभिन्न श्रेणियों पर आर्टिकल लिखता हूँ और आपको आर्टिकल में सारी जानकारी प्रदान करना मेरा उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *