यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय – Yashwant Sinha Biography in Hindi

यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय, राजनेता, जन्म, उम्र, परिवार, राजनितिक करियर, राजनितिक दल, बेटा, वाइफ, शिक्षा, किताब, ट्विटर, इंस्टाग्राम [ Yashwant Sinha Biography In Hindi] (Politician, Birth, Age, Family, Political Career, Political Party, Son, Wife, Education, Book, Twitter, Instagram)

इनके पिता का नाम विपिन बिहारी शरण, माता का नाम धन्ना देवी और पत्नी का नाम नीलिमा सिन्हा है। यशवंत सिन्हा का जन्म 6 नवंबर 1937 में बिहार के पटना जिले में हुआ था। यशवंत सिन्हा की शैक्षिक योग्यता राजनीति विज्ञान में M.A पटना विश्वविद्यालय से ली है। यह पढ़ाई में शुरू से ही काफी रूचि रखते हैं यशवंत सिन्हा वर्ष 1960 में बिहार केडर IAS बने। वर्ष 2022 में भारत में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए उम्मीदवार के रूप में यशवंत सिन्हा खड़े हैं और द्रौपदी मुर्मू महिला प्रत्याशी के रूप में राष्ट्रपति पद के लिए दूसरी उम्मीदवार हैं।

यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय ( Yashwant Sinha Ka Jivan Parichay)

यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय
यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय

यह भी पढ़े – भारत के राष्ट्रपति का चुनाव कैसे होता है? राष्ट्रपति पद के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

Yashwant Sinha Biography in Hindi

पूरा नाम (Name)यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha)
जन्म की तारीख (Birth)6 नवम्बर 1937
जन्म स्थान (Birth Place)पटना, बिहार, भारत
पिता का नाम (Father)विपिन बिहारी शरण
माता का नाम (Mother)धन्ना देवी
पत्नी का नाम (Wife)नीलिमा सिन्हा (लेखक)
बेटे का नाम (Son)जयंत सिन्हा (राजनीतिज्ञ),
सुमंत सिन्हा (व्यवसाई)
बेटी का नाम (Daughter)शर्मिला (लेखक)
पेशा (Profession)राजनेता
राजनीतिक पार्टी (Political Party)भारतीय जनता पार्टी (भूतपूर्व),
तृणमूल कांग्रेस (वर्तमान)
कॉलेज का नाम (College)पटना विश्वविद्यालय
शैक्षिक योग्यताराजनीति विज्ञान से M.A
यशवंत सिन्हा IAS1960-1984 (बिहार केडर)
धर्म (Religion)हिंदू
जाति (Caste)कायस्थ:
नागरिकता (Nationality)भारतीय
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विवाहित

राष्ट्रपति चुनाव 2022 के उम्मीदवार के रूप में

भारत में राष्ट्रपति चुनाव 2022 में होने वाले हैं। राष्ट्रपति चुनाव 2022 के लिए मतदान 18 जुलाई को किया जाएगा। 21 जुलाई को किए गए मतदान की गण मतगणना की जाएगी। राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन 29 जून तक किया जाना था इसके लिए यशवंत सिन्हा ने अपना नाम उम्मीदवार के रूप में दिया है। द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति चुनाव के लिए दूसरी उम्मीदवार के रूप में खड़ी हुई है। द्रौपदी मुरमू आदिवासी महिला के रूप में भारत की पहली ऐसी महिला हैं जो राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हैं।

यशवंत सिन्हा की शैक्षिक योग्यता (Yashwant Sinha Education)

बचपन से ही यशवंत सिन्हा एक मेधावी छात्र थे उन्हें पढ़ाई लिखाई में काफी मन लगता था यशवंत सिन्हा ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पटना में रहकर प्राप्त की। वर्ष 1958 में इन्होंने राजनीति शास्त्र में M.A की डिग्री पटना विश्वविद्यालय से प्राप्त की। शिक्षा ग्रहण करने के बाद इन्होंने 1960 पटना विश्वविद्यालय में ही राजनीति शास्त्र विषय पर शिक्षा देना शुरू कर दिया।

यशवंत सिन्हा का कैरियर (Yashwant Sinha Career)

वर्ष 1960 में यशवंत सिन्हा ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल हुए उन्होंने लगभग 24 वर्ष से अधिक तक कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्यभार संभाला। उसके बाद 4 वर्षों तक उन्होंने सब-डिविजनल और जिला मजिस्ट्रेट के रूप में कार्यभार संभाला। इन्होंने 2 वर्षों तक बिहार सरकार के वित्त मंत्रालय में अपर सचिव तथा उप सचिव के पद की शोभा बढ़ाई।

वर्ष 1971 से 1973 के बीच में जर्मनी के भारतीय दूतावास में कार्यभार संभाला उसके बाद उन्होंने 1973 से 1974 के बीच फ्रैंकफर्ट में भारत के जनरल के रूप में कार्य किया। यशवंत सिन्हा ने बिहार सरकार के औद्योगिक आधारभूत सुविधाओं की विभाग में (डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर) तथा भारत सरकार के उद्योग मंत्रालय में कई वर्षों तक काम किया। वर्ष 1980 से 1984 के बीच भारत सरकार के थल परिवहन मंत्रालय में संयुक्त सचिव के रूप में सड़क परिवहन, बंदरगाह और शिपिंग की पदों के कार्य को संभाला था।

यशवंत सिन्हा का राजनीतिक करियर (Yashwant Sinha Political Career)

यशवंत सिन्हा का राजनीतिक कैरियर 1984 के बाद से शुरू हुआ उन्होंने जनता पार्टी नामक पार्टी की सदस्यता लेकर राजनीतिक कैरियर को शुरू किया। वर्ष 1986 में जनता पार्टी के अखिल भारतीय महासचिव नियुक्त किए गए। यशवंत सिन्हा को वर्ष 1988 में राज्यसभा का सदस्य चुना गया। 18 सो 89 में जनता दल नमक पार्टी के गठन होने के बाद उन्हें राष्ट्रीय महासचिव के रूप में नियुक्त किया गया।

जब चंद्रशेखर प्रधानमंत्री बने तो उनके मंत्रिमंडल में इन्होंने वर्ष 1990 से 1991 तक वित्त मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला। यशवंत सिन्हा ने वर्ष 1996 में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली और उन्हें भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया। वर्ष 1998 में यशवंत सिन्हा को वित्त मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया। उसके बाद वर्ष 2004 तक उन्होंने विदेश मंत्री के रूप में कार्य संभाला था। वर्ष 2004 में चुनाव हार गए थे परंतु वर्ष 2002 में फिर से उन्हें संसद में प्रवेश किया। यशवंत सिन्हा ने 13 जून 2009 को भाजपा के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया और अब टीएमसी में शामिल हो चुके हैं।

यशवंत सिन्हा ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (TMC)

13 जून 2009 को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद यशवंत सिन्हा का राजनीतिक करियर लगभग समाप्त हो चुका था परंतु 13 मार्च 2021 में यशवंत सिन्हा ने ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (TMC) मैं शामिल होकर अपना राजनीतिक कैरियर दोबारा शुरू कर दिया। ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद पार्टी ने इनको राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया।

यशवंत सिन्हा वित्त मंत्री के रूप में (Yashwant Sinha As Finance Minister)

1 जुलाई 2002 तक यशवंत सिन्हा ने वित्त मंत्री पद पर कार्य किया इसके बाद विदेश मंत्री जसवंत सिंह के साथ उनके पद की अदला बदली कर दी गई इन्हें विदेश मंत्रालय सौंपा गया। वित्त मंत्री के रूप में यशवंत सिन्हा ने लगभग 7 बार बजट पेश किया था। इन्होंने वित्त मंत्री के रूप में भारतीय अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए कई ऐसे कदम उठाए हैं जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था को काफी मजबूती प्रधान हुई है।

यशवंत सिन्हा को मिले पुरस्कार (Yashwant Sinha Award)

यशवंत सिन्हा जी को 25 अप्रैल 2015 को फ्रांसीसी सरकार ने सर्वोच्च फ्रांसीसी नागरिक पुरस्कार ”ऑफ़िसियर डे ला लेगियन डी’होनूर” (ऑफिसर ऑफ़ द लीजन ऑफ़ ऑनर) से सम्मानित किया गया था।

यशवंत सिन्हा के द्वारा लिखे गई किताब (Yashwant Sinha Book)

यशवंत सिन्हा ने “कन्फेशंस ऑफ ए स्वदेशी रिफॉर्मर (एक स्वदेशी सुधारक के विचार)” नामक पुस्तक में वित्त मंत्री के रूप में अपने द्वारा बिताए गए वर्षों का विस्तृत ब्यौरा दिया है।

यशवंत सिन्हा सोशल मीडिया (Yashwant Sinha Social Media)

TwitterClick Here

FAQ’S

Q1 : यशवंत सिन्हा के पिता का नाम क्या है?

Ans : यशवंत सिन्हा के पिता का नाम विपिन बिहारी शरण है।

Q2: यशवंत सिन्हा की माता का नाम क्या है?

Ans : यशवंत सिन्हा के माता का नाम धन्ना देवी है।

Q3: यशवंत सिन्हा के बेटे का नाम क्या है?

Ans: यशवंत सिन्हा के बेटे का नाम जयंत सिन्हा, सुमंत सिन्हा है।

Q4: यशवंत सिन्हा की पत्नी का नाम क्या है?

Ans : यशवंत सिन्हा के पत्नी का नाम नीलिमा सिन्हा है।

Q5: यशवंत सिन्हा की बेटी का नाम क्या है?

Ans : यशवंत सिन्हा के बेटी का नाम शर्मिला है।

यह भी पढ़े – द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय? द्रौपदी मुर्मू कौन है?

Leave a Reply

Your email address will not be published.